लाइव टीवी

'ध्यान लगाना बोझिल काम, आध्यात्मिक के बजाय अपराधी बनना पसंद करुंगी'
Mumbai News in Hindi

भाषा
Updated: January 30, 2020, 2:02 AM IST
'ध्यान लगाना बोझिल काम, आध्यात्मिक के बजाय अपराधी बनना पसंद करुंगी'
शीला ने आध्यात्मिक (Spiritual) गुरुओं के प्रचार का भंडाफोड़ करने की इच्छा जताई. (फाइल फोटो)

मां आनंद शीला (Maa Anand Sheela) ने बताया कि अमेरिका में जेल की दीवार पर पेंटिंग कर उन्होंने 1,50,000 डॉलर कमाए.

  • Share this:



मुंबई. आध्यात्मिक गुरु ओशो  (Osho) की विवादित पूर्व सचिव मां आनंद शीला (Maa Anand Sheela) ने बुधवार को दावा किया कि वह ध्यान लगाने को बोझिल काम मानती हैं और आध्यात्मिक के बजाय अपराधी बनना पसंद करेंगी.आध्यात्मिक (Spiritual) गुरुओं के प्रचार का भंडाफोड़ करने की इच्छा जताते हुए उन्होंने कहा कि ‘लोग ध्यान और ज्ञान को बेचते हैं.’ अमेरिका में अपराध के लिए दोषी ठहराई गईं और जेल में सजा काट चुकी 70 वर्षीय शीला ने स्टार्टअप उद्यमियों के वार्षिक सम्मेलन टियोकॉन को संबोधित करते हुए यह बात कही.



शीला वृत्तचित्र ‘वाइल्ड वाइल्ड कंट्री’ के साथ लौटी जिसमें दिखाया है कि राजनीश द्वारा अमेरिका के ओरेगन में स्थापित महत्वकांक्षी ‘रजनीशपुरम’ कैसे असफल हुआ. मूल रूप से वडोदरा के गुजरात की रहने वाली शीला ने बताया कि उन्होंने कभी भी ध्यान नहीं लगाया और एक बार निजी मुलाकात में ओशो ने कहा था कि उन्हें ध्यान लगाने की जरूरत नहीं है क्योंकि उनका काम ही ध्यान है.


जेल की दीवार पर पेंटिंग की
शीला ने बताया कि अमेरिका में जेल की दीवार पर पेंटिंग कर उन्होंने 1,50,000 डॉलर कमाए और 1980 में जेल प्रशासन ने सजा कम करने में मदद की. उन्होंने दावा किया कि ओरेगन समुदाय की ‘रानी’ के नाते उन्होंने अमेरिकी कानून प्रवर्तन एजेंसियों की ओर से लगाए गए सभी आरोपों को स्वीकार किया जिनमें स्थानीय मतदाताओं को जहर देकर मारने की कोशिश और रजनीशपुरम के साथी को बचाने का आरोप शामिल है. गौरतलब है कि रजनीश ने शीला पर कई आरोप लगाए थे लेकिन शीला ने बुधवार को दावा किया कि इसके बावजूद वे दोनों अच्छे दोस्त थे.

ये भी पढ़ें- 

SYL के मुद्दे पर अनिल विज ने अभय चौटाला को लिया आड़े हाथ, कही ये बात

बांदा में भीषण सड़क हादसा: ब्रेक फेल होने से बस पलटी, 40 यात्री घायल, 14 गंभीर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 30, 2020, 1:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर