लाइव टीवी

उद्धव ठाकरे से मिलने 'मातोश्री' पहुंचे नाराज मंत्री अब्दुल सत्तार
Mumbai News in Hindi

News18Hindi
Updated: January 5, 2020, 4:56 PM IST
उद्धव ठाकरे से मिलने 'मातोश्री' पहुंचे नाराज मंत्री अब्दुल सत्तार
शिवसेना से नाराज बताए जा रहे हैं राज्यमंत्री अब्दुल सत्तार. (फाइल फोटो)

शिवसेना से नाराज चल रहे अब्दुल सत्तार (Abdul Sattar) ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) से मिलने उनके आवास 'मातोश्री' पहुंच गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 5, 2020, 4:56 PM IST
  • Share this:
मुंबई. शिवसेना (Shiv Sena) से नाराज चल रहे राज्यमंत्री अब्दुल सत्तार (Abdul Sattar) मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) से मिलने उनके आवास 'मातोश्री' पहुंच गए हैं. गौरतलब है कि सत्तार को सरकार में राजस्व, ग्रामीण विकास, बंदरगाह, भूमि विकास और विशेष सहायता राज्य मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया है. दरअसल, शुक्रवार को ऐसी खबरें आई थीं कि कैबिनेट मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज होकर अब्दुल सत्तार ने इस्तीफा दे दिया है. हालांकि, शिवसेना और उनके परिवार ने इस्तीफे की बात से इनकार कर दिया था.

इस्तीफा देने के बाद बात बढ़ने पर अपने स्टैंड से मुकर गए अब्दुल सत्तार
महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार के गठन को अभी तक दो महीने भी नहीं हुए हैं, लेकिन विभागों के बंटवारे को लेकर सहयोगियों में जमकर खींचतान हुई. मंत्रिपरिषद विस्तार के कई दिनों के बाद तक तो विभागों का बंटवारा तक नहीं हो पाया था. सूत्रों के अनुसार राज्यमंत्री अब्दुल सत्तार (Abdul Sattar) ने नाराज होकर मंत्री पद से अपना इस्तीफा दे दिया था, लेकिन बाद में बात बढ़ने पर वे इस्तीफा देने से मुकर गए. सबसे खास बात यह है कि अब्दुल सत्तार को शिवसेना कोटे से ही राज्यमंत्री बनाया गया है. बताया जा रहा था कि उन्होंने कैबिनेट मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज होकर इस्तीफा दे दिया था. हालांकि मामला सार्वजनिक होने के बाद, शिवसेना और उनके परिवार ने इस्तीफे की बात से साफ इनकार कर दिया.

संजय राउत ने कहा था कि सत्तार नहीं छोड़ेंगे शिवबंधन



अब्दुल सत्तार के इस्तीफे पर शिवसेना से राज्यसभा सांसद संजय राउत ने बहुत सधी हुई बात कही थी. उन्होंने कहा था कि, 'अब्दुल सत्तार को पहली बार में ही मंत्रिमंडल में मौका दिया गया, वे पहले से शिवसैनिक नहीं हैं. उनका इस्तीफा मुख्यमंत्री और राजभवन नहीं भेजा गया था. भरोसा है कि सत्तार शिवबंधन नहीं छोड़ेंगे.' संजय राउत ने यह भी कहा कि, कोई भी विभाग बड़ा या छोटा नहीं होता है. उन्होंने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा कि, वह महाराष्ट्र में 5 साल तक विपक्ष में रहेगी.



 

 

रिपोर्ट - अभिषेक पाण्डेय 

ये भी पढ़ें - 

सरकार के पास नहीं है NRC के लिए सक्षम और पारदर्शी तंत्र: UP कांग्रेस अध्यक्ष

ननकाना साहिब पर हमले जैसी घटनाओं ने CAA कानून लाने को किया विवश: राजनाथ सिंह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 5, 2020, 12:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading