मुंबई: बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आए 'गणपति', ऐसे करेंगे मदद

बाढ़ से महाराष्ट्र (Maharashtra) के कोल्हापुर (Kolhapur), सांगली (Sangli) और सातारा में काफी नुकसान हुआ है. बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए अब मुंबई के 10,000 सार्वजनिक गणेश मंडल सामने आए हैं.

Vivek Gupta | News18India
Updated: August 12, 2019, 7:53 PM IST
मुंबई: बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आए 'गणपति', ऐसे करेंगे मदद
बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आए गणपति
Vivek Gupta | News18India
Updated: August 12, 2019, 7:53 PM IST
महाराष्ट्र के कई शहर और गांव बाढ़ (Floods) की चपेट में हैं. इस साल राज्य के कोल्हापुर, सांगली और सातारा (Satara) में आई बाढ़ से काफी ज्यादा जान-माल का नुकसान हुआ है. धीरे-धीरे हालात सुधर रहे हैं. पर अपना सब कुछ खो चुके लोगों की मदद के लिए अब पूरा महाराष्ट्र एक साथ आ रहा है. जिसमें अब मुंबई (Mumbai) के 10 हजार से ज्यादा सार्वजनिक गणेश मंडल (Ganesh Mandal) भी शामिल हो गए हैं. इस साल सभी गणेश मंडल बाढ़ पीड़ितों को मदद पहुंचाने के लिए अपने-अपने गणेश पंडालों में सजावट और लाइटिंग कम करेंगे, ताकि जो पैसे पंडालों में सजावट और लाइटिंग में खर्च होते थे, उन पैसों से बाढ़ पीड़ितों (Flood Victims) की मदद हो सके.

10 करोड़ की मदद जुटाने का लक्ष्य
इस साल मुंबई के सभी 10 हजार सार्वजनिक गणेश मंडलों ने तय किया है कि वो इस साल महाराष्ट्र में बाढ़ पीड़ितों को मदद पहुंचाने के लिए अपने-अपने पंडालों के तमाम खर्चों में कटौती करेंगे. इनमें से कई पंडाल करीब सौ सालों से गणपति का आयोजन कर रहे हैं. ऐसे में इनके पंडाल, सजावट और लाइटिंग की भव्यता ही उनकी पहचान होती है, लेकिन ये सभी पंडाल इस साल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए इन तमाम खर्चों में कटौती करने जा रहे हैं. ये पैसे बाढ़ पीड़ितों की मदद के काम आएंगे.

सार्वजनिक गणेशोत्सव समन्वय समिति मुंबई के अध्यक्ष नरेश दहिबावकर का कहना है कि हम लगभग 10 करोड़ का टारगेट कर के चल रहे हैं. इसके लिए मुंबई के सभी सार्वजनिक गणेश मंडल भी आगे आ रहे है.

Flood - महाराष्ट्र के कोल्हापुर, सांगली और सातारा में आई बाढ़ से जान-माल का काफी नुकसान हुआ है
महाराष्ट्र के कोल्हापुर, सांगली और सातारा में आई बाढ़ से जान-माल का काफी नुकसान हुआ है


बड़ा आयोजन नहीं, लोगों की मदद करेंगे
चिंचपोकली गणेश मंडल के अध्यक्ष उनेश देसाई का कहना है कि इस साल हमारे मंडल के 100 साल पूरे हो रहे हैं. हमने प्लान बनाया था कि हम इस मौके पर बड़ा कार्यक्रम करेंगे, लेकिन जिस तरह से बाढ़ ने तबाही मचाई है, हमें अब उन लोगों की मदद करनी है. कुर्ला गणेश मंडल के अध्यक्ष सुनिल देशमुख ने भी कहा कि हमने अपने पांडालों की सजावट, लाइटिंग का खर्च कम कर दिया है. हम ये पैसा सीएम मदद के खाते में डालेंगे. इसी तरह से छोटे-छोटे मंडल भी बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं, और जो भी मदद हो सके वो लोग कर रहे हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें -

लद्दाख सीमा: लड़ाकू विमान तैनात कर रहा पाक, इस ना'पाक' हरकत पर सेना की पैनी नजर

कांग्रेस में फूट होने लगी थी! क्या सोनिया गांधी के अंतरिम अध्यक्ष बनने की यही वजह है?
First published: August 12, 2019, 7:19 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...