लाइव टीवी

CM उद्धव से मुलाक़ात पर बोले खडसे- BJP नहीं कुछ नेताओं से नाराज़ हूं, नहीं जा रहा शिवसेना

News18Hindi
Updated: December 10, 2019, 8:58 PM IST
CM उद्धव से मुलाक़ात पर बोले खडसे- BJP नहीं कुछ नेताओं से नाराज़ हूं, नहीं जा रहा शिवसेना
सीएम उद्धव ठाकरे से मुलाकात करते बीजेपी नेता एकनाथ खड़से

बीजेपी नेता एकनाथ खडसे (Eknath Khadse) ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) से मंगलवार को मुलाकात की. इस मुलाकात के खडसे के शिवसेना में जाने की चर्चाएं शुरू हो गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 10, 2019, 8:58 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) से मंगलवार को बीजेपी नेता एकनाथ खडसे ने मुलाकात की. उद्धव से हुई एकनाथ खडसे (Eknath Khadse) की मुलाकात के बाद उनके शिवसेना (Shiv sena) में जाने की अटकलें तेज हो गईं. हालांकि कुछ ही देर में खडसे से साफ़ कर दिया कि वे फिलहाल शिवसेना नहीं जॉइन कर रहे हैं.

एकनाथ खडसे ने जारी कयासों पर कहा- 'मैं शिवसेना जॉइन नहीं कर रहा हूं. मेरी पार्टी (BJP) से कोई नाराजगी नहीं है, मैं सिर्फ पार्टी के 2-3 नेताओं के व्यवहार से नाराज़ हूं.' बता दें कि दोनों की ये मुलाकात नागरिकता संशोधन बिल पर शिवसेना के समर्थन के बाद हुई है.

ऐसा कहा जा रहा है कि महाराष्ट्र बीजेपी के वरिष्ठ नेता एकनाथ खडसे पार्टी से नाखुश हैं. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद से खडसे राज्य नेतृत्व की आलोचना करते रहे हैं और ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि वह कोई कदम उठाएंगे.

उद्धव से पहले पवार से मुलाकात कर चुके हैं खडसे

इससे पहले खडसे ने सोमवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार से दिल्ली में मुलाकात की और दावा किया कि उन्होंने सिंचाई के मुद्दों पर बातचीत की है. खडसे ने कहा था कि मंगलवार को वह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से भी मुलाकात करेंगे. बता दें, पूर्ववर्ती बीजेपी सरकार में जमीन कब्जाने के आरोपों में 2016 में खडसे ने राजस्व मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था.

अच्छा होगा अगर BJP-शिवसेना एक साथ आ जाएं: मनोहर जोशी
इससे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना नेता मनोहर जोशी ने कहा कि मेरी राय में यह अच्छा होगा अगर बीजेपी और शिवसेना एक साथ आ जाएं. लेकिन वर्तमान में दोनों पार्टियां ऐसा नहीं चाहती हैं. जोशी ने पत्रकारों से कहा कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे इस मुद्दे पर उचित समय पर निर्णय लेंगे. उन्होंने कहा, 'छोटे मुद्दों पर लड़ने की जगह बेहतर है कि कुछ बातों को बर्दाश्त किया जाए. जिन मुद्दों को आप दृढ़ता के साथ महसूस करते हैं, उसे साझा करना अच्छा है. अगर दोनों दल साथ में काम करते हैं तो यह दोनों के लिए बेहतर होगा.'जोशी ने कहा, 'ऐसा नहीं है कि शिवसेना अब कभी भी भाजपा के साथ नहीं जाएगी. उद्धव ठाकरे सही समय पर सही निर्णय लेंगे.' वरिष्ठ शिवसेना नेता का यह बयान ऐसे समय पर आया है, जब दोनों दलों के बीच हाल में मुख्यमंत्री पद को लेकर सहमति नहीं बन पाने के चलते अलगाव हो गया था. इसके बाद शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस ने मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाई.
उद्धव ने स्पष्ट किया- सवालों के जवाब तक CAB पर समर्थन नहीं
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि शिवसेना राज्यसभा में तब तक नागरिकता (संशोधन) विधेयक का समर्थन नहीं करेगी, जब तक कि पार्टी द्वारा लोकसभा में उठाए गए सवालों का जवाब नहीं मिल जाता. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को इस विधेयक को लागू करने से अधिक अर्थव्यवस्था, नौकरी संकट और बढ़ती महंगाई पर चिंतित होना चाहिए. ठाकरे ने कहा, 'हमें इस धारणा को बदलना होगा कि इस विधेयक और भाजपा का समर्थन करने वाले देशभक्त हैं और जो इसका विरोध कर रहे हैं वो राष्ट्र-द्रोही हैं. विधेयक को लेकर उठाए गए सभी मु्द्दों पर सरकार को जवाब देना चाहिए.'

भाजपा पर निशाना साधते हुए ठाकरे ने उम्मीद जताई कि भारत में शरण मांगने वालों और इस विधेयक के दायरे में आने वालों को अब अधिक प्याज मिलेगा. ठाकरे ने कहा, 'भाजपा को लगता है कि जो कोई (इससे) असहमत है, वह देशद्रोही है. ये शरणार्थी कहां रुकेंगे... किस राज्य में. यह सबकुछ स्पष्ट होना चाहिए.' उन्होंने कहा, “हमने कुछ सवाल उठाए हैं लेकिन उन्होंने जवाब नहीं दिए हैं.यह एक भ्रांति है कि सिर्फ भाजपा को देश का खयाल है.'

सरकार बचाने की जुगत में हैं उद्धव: फडणवीस
नागरिकता संसोधन बिल पर शिवसेना के समर्थन पर महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और विपक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि लगता है उद्धव ठाकरे सरकार बचाने की जुगत में हैं. उनके बयान से ऐसा लगता है कि वो CAB पर संसद में अपना रवैया बदलने के मन में है. फडणवीस ने कहा कि यह बिल किसी धर्म के विरोध में नहीं है, यह हमारी सरकार ने साफ कर दिया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 10, 2019, 7:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर