लाइव टीवी

पंकजा मुंडे ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मैं लाचार नहीं हूं, 12 दिसंबर को सारे जवाब दूंगी

News18Hindi
Updated: December 3, 2019, 7:27 PM IST
पंकजा मुंडे ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मैं लाचार नहीं हूं, 12 दिसंबर को सारे जवाब दूंगी
पंकजा मुंडे (File Photo)

पंकजा मुंडे (Pankaja munde) ने कहा कि मीडिया में गलत खबरें चल रही हैं. जो कुछ भी है उसके बारे में 12 दिसंबर को बोलूंगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 3, 2019, 7:27 PM IST
  • Share this:
मुंबई. ट्विटर पर अपने बायो से पार्टी का नाम हटाकर अटकलों को हवा देने वाली बीजेपी नेता (BJP Leader) पंकजा मुंडे (Pankaja Munde) ने सोमवार को अपनी चुप्‍पी तोड़ी. पंकजा मुंडे ने कहा, 'मैं कभी लाचार नहीं हूं और ना कभी लाचार थीं. मैंने कभी भी पद के लिए काम नहीं किया है.' पंकजा मुंडे ने कहा कि मीडिया में गलत खबरें चल रही हैं. जो कुछ भी है उसके बारे में 12 दिसंबर को बोलूंगी, तब सारे जवाब दूंगी.

इससे पहले मंगलवार को ही पंकजा मुंडे ने प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती पर श्रद्धांजलि देते हुए फेसबुक पर ‘कमल’ की तस्वीर पोस्ट की. बता दें, कमल बीजेपी का चिह्न है. उनके फेसबुक अकाउंट के ‘अबाउट’ सेक्शन में उनका राजनीतिक संबंध अब भी बीजेपी से दिख रहा है. फेसबुक के पेज पर मंगलवार को अपने संदेश में पंकजा मुंडे ने डॉ. राजेंद्र प्रसाद की 135वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए अपनी पार्टी का चिह्न ‘कमल’ साथ में पोस्ट किया.

पंकजा मुंडे पार्टी नहीं छोड़ रही हैं: महाराष्ट्र बीजेपी प्रमुख
पंकजा मुंडे की बीजेपी छोड़ने की चल रही अटकलों से बीच महाराष्ट्र बीजेपी प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने सोमवार को कहा था कि वह पार्टी छोड़ नहीं रही हैं. पाटिल ने कहा कि वो पंकजा मुंडे से संपर्क में हैं. वह हार के बाद आत्मनिरीक्षण कर रही हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वह बीजेपी छोड़ रही हैं.’ पाटिल ने कहा कि महाराष्ट्र में दुर्घटनावश बनी सरकार निराधार खबरें फैला रही है. उनके ठाकरे परिवार से अच्छे पारिवारिक रिश्ते हो सकते हैं, लेकिन इसका मतलब यह कतई नहीं है कि वह शिवसेना में शामिल होने जा रही हैं.

विधानसभा चुनाव में चचेरे भाई धनंजय मुंडे से हार गईं थी पंकजा
बता दें, बीजेपी के वरिष्ठ नेता दिवंगत गोपीनाथ मुंडे की बेटी पंकजा मुंडे 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव में बीड जिले की परली सीट से अपने चचेरे भाई एवं प्रतिद्वंद्वी एनसीपी के धनंजय मुंडे से हार गई थीं.

गौरतलब है कि पंकजा मुंडे ने अपने ट्विटर बायो से सारी जानकारी हटा दी थी. उन्होंने ट्विटर के बीजेपी का नाम और अपने राजनीतिक सफर का विवरण भी हटा दिया. इससे एक दिन पहले महाराष्ट्र में बदले राजनीतिक परिदृश्य की पृष्ठभूमि में पंकजा मुंडे ने अपनी ‘भावी यात्रा’ के संबंध में सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था, जिससे अटकलों का बाजार गर्म हो गया है.

ये भी पढ़ें-

नाणार और आरे के आंदोलनकारियों की BJP ने की दाऊद से तुलना, भड़की शिवसेना

मुंबई: समुद्र तट पर बहता हुआ मिला सूटकेस, अंदर थे शरीर के कटे हुए अंग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 6:37 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर