खींचतान के बीच बोली बीजेपी, हम शिवेसना के साथ आराम से सरकार बनाएंगे

श्वेता शालिनी ने कहा कि हम शिवसेना के साथ मिलकर आराम से सरकार बना लेंगे. (फोटो- श्वेता शालिनी फेसबुक)

श्वेता शालिनी ने कहा कि हम शिवसेना के साथ मिलकर आराम से सरकार बना लेंगे. (फोटो- श्वेता शालिनी फेसबुक)

महाराष्ट्र (Maharashtra) भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने कहा है कि उसके पास 15 निर्दलीय विधायकों का समर्थन प्राप्त है और वह शिवसेना (Shiv Sena) के साथ मिलकर अगली सरकार ‘आराम’ से बना लेगी.

  • Share this:

मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने कहा है कि उसके पास 15 निर्दलीय विधायकों का समर्थन प्राप्त है और वह शिवसेना (Shiv Sena) के साथ मिलकर अगली सरकार ‘आराम’ से बना लेगी. बीजेपी का यह बयान शिवसेना द्वारा सरकार में बराबर साझेदारी और मुख्यमंत्री पद पूरे कार्यकाल के आधे-आधे समय में बाटंने की मांग के बीच आया है.

पार्टी प्रवक्ता श्वेता शालिनी ने कहा कि 105 अपने विधायकों के अलावा बीजेपी के पास 15 निर्दलीय विधायकों का साथ है. उन्होंने कहा, ‘बीजेपी के टिकट की इच्छा रखने वाले कुछ लोग ऐसे हैं जो निर्दलीय के रूप में चुनाव जीत चुके हैं. उन्होंने बीजेपी को अपना समर्थन दिया है.’ शालिनी ने कहा, ‘मेरा मानना है कि शिवसेना को साथ लेकर बीजेपी आराम से सरकार बना लेगी.’ उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस नई सरकार में शीर्ष पद पर बने रहेंगे.

'राजनीति में कोई संत नहीं'

वहीं शिवसेना नेता संजय राउत ने बीजेपी से कहा है कि वह उनकी पार्टी को महाराष्ट्र में अगली सरकार के गठन के लिए विकल्प ढूंढ़ने पर विवश न करे. उन्होंने साथ ही ये भी कहा कि राजनीति में कोई ‘संत’ नहीं होता है. राउत ने एक समाचार चैनल के साथ बातचीत में कहा, ‘हम गठबंधन (भाजपा के साथ) में विश्वास करते हैं. लेकिन भाजपा को हमें सरकार गठन के लिए अन्य विकल्प ढूंढ़ने को विवश नहीं करना चाहिए.’उन्होंने ये भी कहा, ‘राजनीति में कोई संत नहीं होता.’
राउत की ये बात वरिष्ठ सहयोगी बीजेपी को ये संकेत है कि उससे परे सरकार गठन शिवसेना के लिए पूरी तरह असंभव नहीं है. उन्होंने दावा किया कि दोनों दल सत्ता में ‘बराबर भागीदारी’ पर सहमत हुए थे और इस संबंध में मुंबई में घोषणा भी की गई थी. राउत ने कहा कि सरकार गठन को लेकर बीजेपी और शिवसेना के बीच अभी तक कोई चर्चा नहीं हुई है. महाराष्ट्र में 288 सदस्यीय विधानसभा के लिए हुए चुनाव में बीजेपी को 105 और शिवसेना को 56 सीटें मिली हैं. शरद पवार नीत एनसीपी ने 54 सीट जीतीं, जबकि कांग्रेस के हिस्से 44 सीट आई हैं.



ये भी पढ़ें-

राज्यपाल से अलग-अलग मिले BJP-शिवसेना नेता, फडणवीस ने कही ये बात

इतना सन्नाटा क्यों है भाई? दिवाली पर बाजारों में सुस्ती पर शिवसेना का कटाक्ष

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज