Home /News /maharashtra /

कांग्रेस और एनसीपी ने बीजेपी-शिवसेना के खिलाफ चली नई चाल

कांग्रेस और एनसीपी ने बीजेपी-शिवसेना के खिलाफ चली नई चाल

दोनों ही पार्टी के आला नेताओं को डर है कि निर्दलीय तौर पर लड़ रहे पार्टी के ही बगावती नेता पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार को हरा सकते हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

दोनों ही पार्टी के आला नेताओं को डर है कि निर्दलीय तौर पर लड़ रहे पार्टी के ही बगावती नेता पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार को हरा सकते हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने करीब 10 लोगों को पार्टी से निकाल दिया है, वहीं दूसरी तरफ शिवसेना (Shiv Sena) के करीब 26 पार्षदों ने पार्टी को बाय-बाय बोलते हुए निर्दलीय विधायक को समर्थन करने का फैसला कर दिया.

मुंबई. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 (Maharashtra Assembly Elections 2019) में कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (NCP) ने बीजेपी-शिवसेना (BJP-Shiv Sena) के खिलाफ एक नई सियासी चाल चली है. गैर महाराष्ट्रीयन को नाराज नहीं करने के लिए भले ही विपक्ष ने एमएनएस के साथ समझौता न किया हो लेकिन एमएनएस (MNS) के उम्मीदवारों को विपक्ष ने कई जगहों पर बिना शर्त समर्थन करने की घोषणा कर दी है. विपक्ष को लगता है कि मराठी मुद्दे पर एमएनएस को भुनाया जा सकता है और एमएनएस के हार्ड मराठीवादी छवि को भुनाने के लिए विपक्ष ने कई जगहों पर एमएनएस के उम्मीदवारों को बिना शर्त समर्थन देने का ऐलान किया है.

चंद्रकांत पाटिल को हराने के लिए विपक्ष ने किया एमएनएस प्रत्याशी का समर्थन
जिन सीटों पर एमएनएस के प्रत्याशियों को समर्थन करने का विपक्ष ने ऐलान किया है, उसमें सबसे बड़ी सीट पुणे की कोथरूड है, जहां पर महाराष्ट्र के दिग्गज मंत्री और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल मैदान में हैं. चंद्रकांत पाटिल को पटकनी देने के लिए पूरे विपक्ष ने अपने सभी उम्मीदवारों को हटाकर एमएनएस प्रत्याशी किशोर शिंदे को समर्थन किया है. वैसा ही हाल ठाणे में भी देखने को मिला, जहां पर एमएनएस उम्मीदवार अविनाश जाधव को समर्थन दे दिया गया.

नासिक में भी एमएनएस प्रत्याशी को जिताने की अपील
नासिक में भी यही देखने को मिला, जहां एमएनएस उम्मीदवार को विपक्ष ने अपना उम्मीदवार बना लिया. ठीक उसी तरीके से कल्याण में भी देखने को मिला, जहां एमएनएस के प्रत्याशी को विपक्ष ने बिना शर्त समर्थन देने का ऐलान किया और सभी से एकजुट होकर एमएनएस प्रत्याशी को जिताने की अपील की. विपक्ष इस मास्टर प्लान के जरिए कोशिश कर रहा है कि आने वाले समय में भाजपा-शिवसेना की सीटों को कम करने में कामयाबी मिल सके.

निर्दलीय उम्मीदवारों को समर्थन करते दिख रहे हैं कई नेता
महाराष्ट्र विधानसभा में इन दिनों बीजेपी-शिवसेना के बगावती उम्मीदवारों की संख्या बढ़ सी गई है. दोनों ही पार्टियों में टिकट की आस लगाए बैठे नेताओं को जब पार्टी ने टिकट नहीं दिया तो कई नेता निर्दलीय चुनावी मैदान में ताल ठोकते नजर आए.  बीजेपी-शिवसेना की कोशिशों के बावजूद कुछ उनके कुछ नेता चुनावी मैदान में ताल ठोकते नजर आ रहे हैं या कई नेता इस्तीफा देकर निर्दलीय उम्मीदवारों को समर्थन करते दिख रहे हैं.

ये भी पढ़ें - 

कीर्ति आजाद बनाए जा सकते हैं दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष

BJP प्रदेश अध्यक्ष को दो बार लिए बिना उड़ गया हेलिकॉप्टर, जानें वजह

Tags: BJP, Congress, Maharashtra Assembly Election 2019, NCP, Politics, Shiv sena

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर