लाइव टीवी

महाराष्ट्र में कांग्रेस को लगा झटका, कहां हैं राहुल और प्रियंका गांधी?

News18Hindi
Updated: November 23, 2019, 6:33 PM IST
महाराष्ट्र में कांग्रेस को लगा झटका, कहां हैं राहुल और प्रियंका गांधी?
राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का महाराष्ट्र के बदलते राजनीतिक घटनाक्रमों पर अभी तक कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है.

महाराष्ट्र (Maharashtra) के ताजा राजनीतिक घटनाक्रम से पूर्व कांग्रेस (Congress) अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. कांग्रेस सूत्रों के अनुसार शिवसेना (Shiv Sena) के साथ जाने के मुद्दे पर कांग्रेस के फैसले में राहुल गांधी की कोई भूमिका नहीं थी और न ही इस संबंध में लिए गए फैसले में किसी भी स्तर पर वे शामिल रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2019, 6:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) में राजनीतिक घमासान मचा हुआ है. कांग्रेस पार्टी के लगभग सभी बड़े नेता राज्य की राजनीति पर नजर रख रहे हैं. वहीं कांग्रेस (Congress) सूत्रों के अनुसार, शिवसेना (Shiv Sena) के साथ जाने के मुद्दे पर कांग्रेस के फैसले में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की कोई भूमिका नहीं थी और न ही इस संबंध में लिए गए फैसले में किसी भी स्तर पर वे शामिल रहे हैं. वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) का भी महाराष्ट्र में बदलते राजनीतिक घटनाक्रमों पर कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है. प्रियंका गांधी हाल के दिनों में ट्वीटर पर काफी एक्टिव रही हैं.

बता दें कि महाराष्‍ट्र में शनिवार को बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच राज्यपाल ने देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadanvis) को राज्य का सीएम और एनसीपी (NCP) चीफ शरद पवार (Sharad Pawar) के भतीजे अजित पवार (Ajit Pawar) को राज्य के डिप्टी सीएम के रूप में शपथ दिलाई गई है.

महाराष्ट्र की राजनीति से प्रियंका-राहुल क्यों दूर?
महाराष्ट्र 23 नवंबर को सुबह ही महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari Governor of Maharashtra) ने बीजेपी नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadanvis) को मुख्यमंत्री और एनसीपी (NCP) नेता अजित पवार (Ajit Pawar) को डिप्टी सीएम पद की शपथ दिलाई थी. देवेन्द्र फडणवीस के सीएम बनने के बाद महाराष्ट्र की राजनीति गरमा गई है. राज्य में सरकार गठन के बाद बयानों का सिलसिला भी लगातार जारी है. राजनीतिक दलों के द्वारा अपने-अपने हिसाब से प्रतिक्रियाएं दी जा रही हैं. देश की सोशल साइट्स पर कुछ लोग सरकार गठन के पक्ष में तो कुछ सरकार बनने के विरोध में अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं.

rahul sonia
महाराष्ट्र को लेकर कांग्रेस के फैसले में राहुल गांधी की कोई भूमिका नहीं थी.


ऐसा ही एक बयान केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) की तरफ से भी आया है. महाराष्ट्र के बदलते राजनीतिक घटनाक्रम पर नितिन गडकरी ने नया बयान दिया है. गडकरी ने कहा, 'मैंने हाल ही में कहा था कि क्रिकेट और राजनीति में कुछ भी संभव है. अब आप समझ गए होंगे कि मेरे कहने का क्या मतलब था!'

Loading...

वहीं महाराष्ट्र कांग्रेस पार्टी आक्रमक रुख अख्तियार कर लिया है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Sujewala) ने मीडिया से बात करते हुए कहा, '23 नवंबर का दिन देश के इतिहास में काले अध्याय के रूप में दर्ज होगा. सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी ने अवसरवादी अजित पवार को जेल का डर दिखाकर देश के लोकतंत्र (Democracy) की हत्या कर दी. ये महाराष्ट्र के लोगों के साथ धोखा है. देवेंद्र फडणवीस एनसीपी नेता अजित पवार को जेल भेजना चाहते थे, लेकिन मंत्रालय देकर भेज दिया.

ये भी पढ़ें: 

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पहले ही कर दी भविष्यवाणी, अब सच साबित हुई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 23, 2019, 6:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...