• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • भविष्य में साथ आएंगे कांग्रेस-NCP क्योंकि वे भी थक गए हैं और हम भी: सुशील कुमार शिंदे

भविष्य में साथ आएंगे कांग्रेस-NCP क्योंकि वे भी थक गए हैं और हम भी: सुशील कुमार शिंदे

सुशील कुमार शिंदे ने सोलापुर में कहा कि भविष्य में कांग्रेस और एनसीपी एक-दूसरे के करीब आएंगे. (फाइल फोटो)

सुशील कुमार शिंदे ने सोलापुर में कहा कि भविष्य में कांग्रेस और एनसीपी एक-दूसरे के करीब आएंगे. (फाइल फोटो)

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार शिंदे (Sushil Kumar Shinde) ने कहा कि वह और राकांपा अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) एक ही पेड़ के नीचे (कांग्रेस में) बड़े हुए हैं.

  • Share this:
    पुणे. कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे (Sushil Kumar Shinde) ने मंगलवार को कहा कि उनकी पार्टी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) ‘भविष्य में साथ आएंगे.’ पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह और राकांपा अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) एक ही पेड़ के नीचे (कांग्रेस में ही) बड़े हुए हैं, हालांकि पवार खुलेआम इस पर बात नहीं करते हैं.

    सार्वजनिक सभा में बोल रहे थे शिंदे
    शिंदे ने बिना ब्‍योरा दिए कहा, ‘भले ही कांग्रेस और राकांपा दो अलग-अलग पार्टियां हैं, लेकिन आज मैं आपको यह कहना चाहूंगा कि भविष्य में हम एक-दूसरे के करीब आएंगे, क्योंकि अब शरद पवार भी थक गए हैं और हम भी थक गए हैं.’ सुशील कुमार शिंदे पश्चिमी महाराष्ट्र में अपने गृह जिले सोलापुर में एक सार्वजनिक सभा में बोल रहे थे.

    इंदिरा गांधी और यशवंतराव चव्हाण का दिया हवाला
    शिंदे ने खुद के और पवार के बारे में कहा कि वह राकांपा नेता से सिर्फ साढ़े आठ महीने छोटे हैं और एक ही पेड़ के नीचे बड़े हुए हैं. इंदिरा गांधी और यशवंतराव चव्हाण के नेतृत्व में आगे बढ़े हैं. उन्होंने कहा, ‘इसलिए हमारे दिल और उनके दिल में भी अफसोस है, एक ही भावना है... बस इतना फर्क है कि वह (पवार) इसके बारे में बोलते नहीं हैं, लेकिन समय आएगा जब वह इस बारे में बात करेंगे.’ पवार ने मई 1999 में कांग्रेस छोड़ दी थी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की स्थापना की थी.

    ये भी पढ़ें - 

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज