अपना शहर चुनें

States

संजय निरुपम के तीखे बोल- महाराष्ट्र में लूली-लंगड़ी सरकार बनेगी, अंतिम नुकसान कांग्रेस को होगा

संजय निरुपम ने कहा है कि इस गठबंधन से अंतिम नुकसान कांग्रेस को ही होगा. (फाइल फोटो)
संजय निरुपम ने कहा है कि इस गठबंधन से अंतिम नुकसान कांग्रेस को ही होगा. (फाइल फोटो)

शिवसेना (Shiv Sena) के और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के साथ सरकार बनाने को लेकर संजय निरुपम (Sanjay Nirupam) ने अपनी ही पार्टी कांग्रेस पर हमला किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2019, 5:50 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन को लेकर बैठकों का दौर जारी है. शिवसेना (Shiv Sena) के नेतृत्व में सरकार बनाने के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) और कांग्रेस (Congress) की बातचीत अंतिम दौर में है. इसी बीच कांग्रेस नेता संजय निरुपम (Sanjay Nirupam) ने कहा है कि जो सरकार बनेगी वो लूली-लंगड़ी ही होगी. इसके साथ ही उन्होंने शिवसेना-एनसीपी के संग मिलकर सरकार बनाने को लेकर पार्टी को आगाह भी किया है. उन्होंने कहा है कि ऐसी स्थिति में अंतिम नुकसान कांग्रेस को ही होगा.



मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम ने कहा, 'शिवसेना और बीजेपी ने जो पाप किया है, उसे कांग्रेस आखिर क्यों भुगते. शिवसेना की सरकार में तीसरे नंबर की पार्टी बनना कांग्रेस को यहां (महाराष्‍ट्र) दफन करने जैसा है.' संजय निरुपम ने साफ शब्दों में कहा है कि अगर कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाती है तो यह हमारे लिए घातक होगा. पार्टी की हालत महाराष्ट्र में भी ठीक वैसी ही हो जाएगी जैसा यूपी और बिहार में है. निरुपम ने कहा कि कांग्रेस पार्टी पर जो दबाव डाला जा रहा है, वह गलत है.



एक महीने बाद भी नहीं बनी सरकार
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे आए लगभग एक महीने का समय हो चुका है, लेकिन अभी तक राज्य में नई सरकार नहीं बन पाई है. बीजेपी-शिवसेना के चुनाव पूर्व गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिला था, लेकिन सत्ता में बराबर की भागीदारी और ढाई-ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद को लेकर दोनों दलों में सहमति नहीं बन पाई है. इसके बाद शिवसेना ने एनसीपी और कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने को लेकर बातचीत करनी शुरू कर दी. कहा जा रहा है कि अब तीनों दलों के बीच का बातचीत अंतिम दौर में है और कभी भी राज्य में सरकार गठन को लेकर फैसला हो सकता है. हालांकि, कांग्रेस में ही अब इसका विरोध होने लगा है.

 

ये भी पढ़ें-

उद्धव के खिलाफ थाने पहुंचा शख्स, कहा- शिवसेना ने की मेरे वोट के साथ चीटिंग

JNU छात्रों के समर्थन में उतरी शिवसेना, 'खूनी झगड़े' को लेकर किया आगाह
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज