लाइव टीवी

उद्धव सरकार के मंत्री बोले- महाराष्ट्र में नागरिकता कानून लागू नहीं होने देगी कांग्रेस

News18Hindi
Updated: December 13, 2019, 7:02 PM IST
उद्धव सरकार के मंत्री बोले- महाराष्ट्र में नागरिकता कानून लागू नहीं होने देगी कांग्रेस
नितिन राउत ने कहा, कांग्रेस महाराष्ट्र में नागरिकता कानून को लागू नहीं होने देगी

कांग्रेस (Congress) नेता और महाराष्ट्र की उद्धय ठाकरे सरकार में मंत्री नितिन राउत (Nitin Raut) ने कहा कि नागरिकता संशोधित कानून को हम महाराष्ट्र (Maharashtra) में लागू नहीं होने देगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 13, 2019, 7:02 PM IST
  • Share this:
मुंबई. नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act 2019) को लेकर जहां एक पूर्वोत्तर के राज्यों में हिंसक प्रदर्शन जारी है, वहीं कुछ राज्य सरकारों ने इसे अपने सूबे में लागू करने से इनकार किया है. केरल, पश्चिम बंगाल और पंजाब के बाद अब महाराष्ट्र सरकार ने भी संकेत दिए कि वह इस कानून को लागू नहीं होने देंगे. कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र की उद्धय ठाकरे सरकार में मंत्री नितिन राउत (Nitin Raut) ने कहा कि नागरिकता संशोधित कानून को हम महाराष्ट्र में लागू नहीं होने देंगे.

इससे पहले मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ (Kamal Nath) ने राज्य में CAB को ना लागू होने के संकेत दिए. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी जो भी स्टैंड नागरिकता कानून पर लेगी, हम उसका पालन करेंगे. उस प्रक्रिया का हिस्सा नहीं होना चाहते, जो भेदभाव करे.’ उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि अर्थव्यवस्था की खराब हालत से ध्यान भटकाने के लिए यह कानून लागू किया गया है.

महाराष्ट्र की उद्धव सरकार में मंत्री हैं नितिन राउत


बंगाल में लागू नहीं होने देंगे नागरिकता कानून

उधर, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि नागरिकता संशोधन बिल को संसद में पारित करके और इसके कानून बनाकर केंद्र सरकार हमें इसे मानने के लिए बाध्य नहीं कर सकती. उन्होंने खड़गपुर में एक रैली के दौरान कहा, “NRC और CAB को लेकर चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. हम बंगाल में कभी इसकी इजाजत नहीं देंगे. वे किसी वैध नागरिक (Legal Citizen) को यूं ही देश से बाहर नहीं फेंक सकते या उसे शरणार्थी नहीं बना सकते.”

पंजाब और केरल में लागू नहीं होगा CAB
इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने नागरिकता संसोधन विधेयक (CAB) को असंवैधानिक और देश का बांटने वाला बताते हुए ऐलान किया था कि CAB को किसी भी हाल में पंजाब (Punjab) में लागू नहीं करने दिया जाएगा. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि नागरिकता संसोधन विधेयक (Citizenship Amedment Bill) को लागू होने से रोकने के लिए पंजाब विधानसभा में जल्द ही एक प्रस्ताव भी लाया जाएगा. वहीं, केरल के सीएम पिनरई विजयन ने भी कहा कि उन्हें भी यह स्वीकर नहीं है.ये भी पढ़ें-

CAB को लेकर अलीगढ़ व सहारनपुर में विरोध प्रदर्शन, AMU के छात्रों ने निकाला जुलूस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 13, 2019, 7:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर