होम /न्यूज /महाराष्ट्र /महाराष्ट्र में कोरोना का कहर तेज, 24 घंटे में 26000 से ज्यादा केस, सिर्फ मुंबई में 15,166 नए मामले

महाराष्ट्र में कोरोना का कहर तेज, 24 घंटे में 26000 से ज्यादा केस, सिर्फ मुंबई में 15,166 नए मामले

मुंबई में कोरोना वायरस के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

मुंबई में कोरोना वायरस के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Coronavirus Cases in Mumbai: मुंबई में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 15,166 नए केस दर्ज किए गए हैं. फिलहाल शहर में ए ...अधिक पढ़ें

    मुंबई. देश की आर्थिक राजधानी एक बार फिर से कोरोना वायरस (Coronavirus in Mumbai) की चपेट में बुरी तरह से आ चुकी है. मुंबई में बुधवार को कोरोना वायरस के 15,166 नए केस दर्ज किए गए हैं, वहीं शहर में पॉजिटिविटी रेट 25 फीसदी पर पहुंच गया है. शहर में 87 फीसदी मामले बिना लक्षण वाले हैं. मुंबई (Mumbai Coronavirus Update Today) में बीते 24 घंटे में 3 लोगों की मौत हुई है. फिलहाल शहर में एक्टिव केस की संख्या 61,923 हो गई है. मुंबई में पिछले दिन के मुकाबले करीब 5 हजार ज्यादा केस दर्ज किए गए हैं. शहर में मंगलवार को कोरोना वायरस के 10,890 केस सामने आए थे. वहीं महाराष्ट्र (Coronavirus Case in Maharashtra Today) में 26,538 नए केस सामने आए हैं. राज्य में 8 लोगों की मौत हुई है जबकि 5331 लोग ठीक हुए हैं. महाराष्ट्र में एक्टिव मामलों की संख्या 87505 हो गई है. वहीं राज्य में ओमिक्रॉन के मामले बढ़कर 797 हो गए हैं जिसमें से 330 लोग ठीक हो चुके हैं.

    मुंबई और इसके उपनगर में सार्वजनिक बसों का परिचालन करने वाली बृह्नमुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई (बेस्ट) सेवा के पिछले कुछ दिनों में 66 कर्मी और अधिकारी संक्रमित पाए गए हैं. मुंबई की महापौर किशोरी पेडनेकर ने मंगलवार को कहा था कि अगर यहां कोविड​​-19 के दैनिक मामले 20,000 का आंकड़ा पार करते हैं तो केंद्र सरकार के नियमों के अनुसार शहर में लॉकडाउन लगाया जाएगा. वहीं कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए रैपिड आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य कर दी है. बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि पिछले हफ्ते जारी किए गए दिशा निर्देश सोमवार से लागू हो गए.

    ये भी पढ़ें- कोरोना वीकेंड कर्फ्यू पर मेट्रो सेवाओं में बदलाव, ट्रेन के लिए करना पड़ेगा इंतजार

    संक्रमित यात्रियों को इंस्टीट्यूशनल क्वारंटीन
    संशोधित आदेश में कहा गया है, ‘‘रैपिड आरटी-पीसीआर जांच में संक्रमित पाए जाने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को हवाई अड्डे पर ही नियमित आरटी-पीसीआर जांच करानी होगी.’’ अगर वे उसमें भी संक्रमित पाए जाते हैं तो नमूने को तुरंत जीनोम अनुक्रमण के लिए भेजा जाएगा और यात्री को संस्थागत पृथक-वास में भेजा जाएगा.

    मुंबई में इस हफ्ते चरम पर पहुंच सकते हैं केस
    टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च (टीआईएफआर) के शोधकर्ताओं का मानना है कि कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने के बीच मुंबई में छह से 13 जनवरी के बीच संक्रमण के मामले चरम पर पहुंच सकते हैं और इसमें कमी आने में एक माह का समय लग सकता है.

    टीआईएफआर के प्रौद्योगिकी एवं कम्प्यूटर साइंस स्कूल में वरिष्ठ प्रोफेसर संदीप जुनेजा ने कहा कि फरवरी में संक्रमण से सर्वाधिक मौतें हो सकती हैं लेकिन पिछले वर्ष मार्च से मई के बीच संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान हुई मौतों से 30 से 50 प्रतिशत तक कम होंगी.

    Tags: Coronavirus, Coronavirus cases in Mumbai

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें