होम /न्यूज /महाराष्ट्र /कोरोना वायरस: ICMR की गाइडलाइन से पहले ही जलगांव ने दिखाई सूझबूझ, पकड़ में आए कई पॉजिटिव केस

कोरोना वायरस: ICMR की गाइडलाइन से पहले ही जलगांव ने दिखाई सूझबूझ, पकड़ में आए कई पॉजिटिव केस

कोरोना से हिमाचल में छठी मौत.

कोरोना से हिमाचल में छठी मौत.

हाल में महाराष्ट्र (Maharashtra) का जलगांव (Jalgaon) जिला राष्ट्रीय मीडिया में चर्चा में आया है. इसका कारण है है यहां क ...अधिक पढ़ें

    मुंबई. महाराष्ट्र का जलगांव (Jalgaon) जिला अपने यहां सभी मृतकों की कोरोना टेस्टिंग (Corona Testing) कर रहा है. दरअसल अप्रैल महीने में जिले में एक वृद्ध व्यक्ति की मौत के बाद उनसे संबंधित कुल 70 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले थे. इससे प्रशासन के कान खड़े हो गए. यही वजह है कि जलगांव जिले में इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च द्वारा मई महीने में जारी की गई गाइडलाइन के पहले से मृतकों की कोरोना टेस्टिंग की जा रही है. गौरतलब है कि महाराष्ट्र का ये जिला बीते दिनों राष्ट्रीय चर्चा का केंद्र बन गया है. इसका कारण ये है कि जिले का कोरोना डेथ रेट राष्ट्रीय औसत से चार गुना ज्यादा है, लेकिन हाई डेथ रेट के पीछे जिले के स्वास्थ्य अधिकारियों की हाई टेस्टिंग स्पीड को कारण बताया जा रहा है.

    क्या कहते हैं डीएम
    जलगांव जिले के डीएम अविनाश धाकने के मुताबिक-अप्रैल महीने के आखिरी में एक 85 वर्षीय व्यक्ति की मृत्यु हो गई थी. मौत के पहले उन्होंने एक प्राइवेट डॉक्टर से इलाज कराया था. बाद में उनकी मौत एक सरकारी अस्पताल में हुई जहां पर डॉक्टरों को संदेह हुआ कि उन्हें कोरोना हो सकता है. संदेह के आधार पर टेस्टिंग की गई और वो कोरोना पॉजिटिव निकले.

    एक मौत से जुड़े 70 लोग कोरोना पॉजिटिव
    उस वृद्ध व्यक्ति के अंतिम संस्कार में कई लोग शामिल हुए थे. प्रशासन ने अंतिम संस्कार में शामिल हुए लोगों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग करके टेस्टिंग की. आश्चर्यजनक रूप से मृतक के परिवार और संबंधियों में तीस लोग कोरोना पॉजिटिव निकले. मौत के पहले उस वृद्ध व्यक्ति ने जिस प्राइवेट डॉक्टर के यहां इलाज कराया था, उसकी भी जांच की गई. डॉक्टर से संबंधित भी कई लोगों की जांच की गई. इस पूरी प्रक्रिया में करीब 70 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले. उस प्राइवेट डॉक्टर पर कोरोना संबंधी नियम न फॉलो करने पर कार्रवाई की गई है.

    जिले की डेथ रेट पर हो रही है चर्चा
    गौरतलब है कि इस वक्त पूरे देश में सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस महाराष्ट्र में ही है. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है. लेकिन जलगांव जिले की डेथ रेट काफी ज्यादा है. कहा जा रहा है कि डेथ रेट ज्यादा होने के पीछे यहां की तेज टेस्टिंग स्पीड जिम्मेदार है. स्वास्थ्य अधिकारियों ने सतर्कता बरती इसी वजह से ज्यादा केस निकल कर सामने आ रहे हैं. इस जिले में डेथ रेट 12.3 फीसदी है, जो राष्ट्रीय औसत का करीब चार गुना ज्यादा है. कोरोना वायरस की भारत में औसत डेथ रेट 2.8 है. जलगांव जिला मुंबई से करीब 400 किलोमीटर की दूरी पर है.

    ये भी पढ़ें: आज से SBI के लाखों ग्राहकों को मिलने वाली है बड़ी राहत! बैंक ने लिए बड़ा फैसला

    Covid-19: भारत ने किए 50 लाख टेस्ट, पर रेटिंग में टॉप-130 में भी नहीं

    Tags: Corona Affected, COVID 19, COVID-19 pandemic, Maharashtra, Mumbai

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें