लाइव टीवी

सरकार गठन पर गतिरोध के बीच बारिश प्रभावित इलाकों के दौरे पर निकले फडणवीस और उद्धव

News18 Bihar
Updated: November 3, 2019, 1:41 PM IST
सरकार गठन पर गतिरोध के बीच बारिश प्रभावित इलाकों के दौरे पर निकले फडणवीस और उद्धव
औरंगाबाद और अकोला जिले में बेमौसम बारिश से सबसे ज्यादा फसलों का नुकसान हुआ है (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने (Chief Minister Devendra Fadnavis) अकोला में किसानों से मुलाकात की और नष्ट फसलों का मुआयना किया. जबिक, उद्धव ठाकरे ने औरंगाबाद (Aurangabad) के कन्नड़ और वैजापुर तालुका का दौरा किया.

  • Share this:
मुम्बई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन को लेकर जारी गतिरोध के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Chief Minister Devendra Fadnavis) और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) राज्य में उन क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं, जहां बेमौसम बारिश के कारण फसलें नष्ट हो गई हैं. मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) ने बताया कि फडणवीस ने रविवार को अकोला में किसानों से मुलाकात की और नष्ट फसलों का मुआयना किया. वहीं, शिवसेना की ओर से जारी बयान के अनुसार, उद्धव ठाकरे ने रविवार को औरंगाबाद जिले का दौरा किया और बर्बाद फसलों का जायजा लिया. औरंगाबाद के कन्नड़ और वैजापुर तालुका में फसलों का काफी नुकसान हुआ है.

54.22 लाख हेक्टेयर फसल बर्बाद
दरअसल, शनिवार को सीएम देवेंद्र फडणवीस ने बर्बाद फसालों की समीक्षा के लिए एक बैठक बुलाई थी.  हालांकि, इस बैठक से शिवसेना के नेताओं ने किनारा कर लिया था. बैठक के बाद फडणवीस ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि इस मीटिंग में किसानों के मुद्दे पर चर्चा हुई है. उन्होंने कहा था कि  बेमौसम बारिश से प्रभावित किसानों को तत्काल सहायता प्रदान करने के लिए विशेष प्रावधान के तहत 10,000 करोड़ रुपए मंजूर किए हैं. वहीं, फडणवीस ने शुक्रवार को एक समीक्षा बैठक के बाद कहा था कुछ जिलों के 325 तालुकाओं में फैले 54.22 लाख हेक्टेयर में ज्वार, धान, कपास, मक्का, अरहर और सोयाबीन जैसी फसलों को नुकसान हुआ है.

बता दें कि महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के परिणाम आए हुए 10 दिन हो गए हैं, लेकिन अभी तक नई सरकार का गठन नहीं हुआ है. बीजेपी और शिवसेना के बीच मुख्यमंत्री पद के लिए गुत्थमगुत्थी चल रही है. शिवसेना 50-50 फॉर्मूले पर अड़ी हुई है. उसका कहना है कि दोनों पार्टियों की तरफ से ढाई-ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री होंगे. लेकिन बीजेपी उसकी शर्तें मानने को तैयार नहीं है. बीजेपी का कहना है कि देवेंद्र फडणवीस ही फिर से पांच साल के लिए मुख्यमंत्री होंगे. यही वजह है कि शिवसेना और बीजेपी के बीच अभी तक सरकार बनाने को लेकर समझौता नहीं हो पाया है.

ये भी पढ़ें-  

छात्र के साथ मिलकर 2 करोड़ की रंगदारी मांग रहा था बर्खास्त प्रधानाचार्य, फिर...

Government Job: 10वीं पास के लिए कॉन्‍स्‍टेबल के पद पर मौका, 20,000 सैलरी होगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 3, 2019, 1:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...