• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • महाराष्ट्र: विपक्ष के नेता बने देवेंद्र फडणवीस, बोले- कल के विरोधी मित्र हो गए और मित्र विरोधी बन गए

महाराष्ट्र: विपक्ष के नेता बने देवेंद्र फडणवीस, बोले- कल के विरोधी मित्र हो गए और मित्र विरोधी बन गए

खबर है कि देवेंद्र फडणवीस मुंबई स्थित मुख्यमंत्री आवास 'वर्षा' खाली कर दिया है. (फाइल फोटो)

खबर है कि देवेंद्र फडणवीस मुंबई स्थित मुख्यमंत्री आवास 'वर्षा' खाली कर दिया है. (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष का नेता चुने जाने पर देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने कहा, ‘मेरा पानी उतरता देख घर मत बसा लेना, मैं समुंद्र हूं फिर से वापस आऊंगा.’

  • Share this:
    मुंबई. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis)  को रविवार को विधानसभा में विपक्ष का नेता चुना गया. इस दौरान देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि विरोधी का मतलब शत्रु नहीं बल्कि वैचारिक विरोध होता है. कल जो विरोधी थे, वे आज मित्र हो गए और जो मित्र थे, वे विरोधी हो गए.

    सदन में बोलते हुए फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने कहा, ‘मैंने कहा था कि मैं फिर से आऊंगा और महाराष्ट्र की जनता ने हमें इसके लिए जनादेश भी दिया, लेकिन इस जनादेश का हमने सम्मान नहीं किया. मैंने ये नहीं कहा था कि कब आऊंगा. लेकिन अब कहना चाहता हूं ‘मेरा पानी उतरता देख घर मत बसा लेना, मैं समुंद्र हूं फिर से वापस आऊंगा.’

    ‘संविधान के खिलाफ चलने वालों का करूंगा विरोध’
    वहीं, फडणवीस ने उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनने पर उन्हें बधाई दी. उन्होंने कहा कि कई वर्षों तक हमने साथ काम किया, लेकिन कुछ कारणों से हम फिर से साथ नहीं आ पाए. फडणवीस ने कहा कि हम हर काम में सरकार का सहयोग करने की कोशिश करेंगे. हमने शनिवार को फ्लोर टेस्ट के दौरान संविधान के हिसाब से अपना पक्ष रखने की कोशिश की थी. लेकिन नियम और संविधान के विरुद्ध कोई काम होगा तो हम उसका हमेशा विरोध करेंगे.

    पूर्व सीएम ने कहा कि संविधान के हिसाब से अगर काम नहीं होगा तो चाहे आप हमारा कोई भी नाम रखो, कुछ भी बोलो, गुस्सा करो, मैं मानने वाला नहीं हूं.

    उद्धव ने फडणवीस की जमकर तारीफ की
    इससे पहले सदन में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने देवेंद्र फडणवीस की जमकर तारीफ की. उद्धव ने कहा, 'मैंने देवेंद्र फडणवीस से बहुत चीजें सीखी हैं और मैं हमेशा उनका दोस्त रहूंगा. मैं अभी भी 'हिंदुत्व' की विचारधारा के साथ हूं और इसे कभी नहीं छोड़ूंगा.' उन्होंने कहा कि पिछले 5 साल में मैंने कभी भी सरकार को धोखा नहीं दिया है.

    ये भी पढ़ें-

    महाराष्ट्र: स्पीकर चुने जाने के बाद सदन को संबोधित करेंगे राज्यपाल कोश्यारी

    फडणवीस ने बताया BJP ने क्यों वापस लिया स्पीकर पद के उम्‍मीदवार का नाम?

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन