एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा का इस्तीफा, शिवसेना के टिकट पर लड़ सकते हैं चुनाव

प्रदीप शर्मा ने जब मुंबई में कदम रखा, तब अंडरवर्ल्ड अपने चरम पर था. दाऊद इब्राहिम, छोटा राजन जैसे नामी अपराधी पुलिस की हिट लिस्ट में थे. शर्मा ने आते ही अंडरवर्ल्ड पर अपनी नजरें टेढ़ी करनी शुरू कर दी और दो नामी बदमाशों का एनकाउंटर किया.

News18Hindi
Updated: July 19, 2019, 10:48 AM IST
एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा का इस्तीफा, शिवसेना के टिकट पर लड़ सकते हैं चुनाव
प्रदीप शर्मा ( फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: July 19, 2019, 10:48 AM IST
महाराष्ट्र पुलिस के एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है. 100 से ज्यादा एनकाउंटर कर चुके शर्मा ने अचानक इस्तीफा दे दिया है. कहा जा रहा है कि वो महाराष्ट्र में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव लड़ सकते हैं. खास बात यह है कि प्रदीप शर्मा शिवसेना के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं.

4 जुलाई को ठाणे पुलिस कमिश्नर को फेजा था अपना इस्तीफा
बता दें कि 4 जुलाई को एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा ने ठाणे पुलिस कमिश्नर को अपना इस्तीफा फेजा था. हालांकि, उनके इस्तीफे को अब तक स्वीकार नहीं किया गया है. एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा फिलहाल ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल में सीनियर पुलिस ऑफिसर के पद पर कार्यरत हैं.

दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर को गिरफ्तार किया था

मालूम हो कि ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल में रहते हुए प्रदीप शर्मा ने एक्सटॉर्शन के मामले में दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर को गिरफ्तार किया, जिसपर मकोका के तहत मामला चल रहा है. साथ ही उन्होंने बुकी सोनु जलाना और इंटरनेशनल डी-कंपनी के बेटिंग सिंडिकेट को तोड़ा. जिसमें अभिनेता अरबाज खान सहित कई नामी कलाकारों के बेटिंग की जानकारी उभरकर सामने आई थी.

अंडरवर्ल्ड पर अपनी नजरें टेढ़ी करनी शुरू कर दी थी
प्रदीप शर्मा ने जब मुंबई में कदम रखा, तब अंडरवर्ल्ड अपने चरम पर था. दाऊद इब्राहिम, छोटा राजन जैसे नामी अपराधी पुलिस की हिट लिस्ट में थे. शर्मा ने आते ही अंडरवर्ल्ड पर अपनी नजरें टेढ़ी करनी शुरू कर दी और दो नामी बदमाशों का एनकाउंटर किया. इसके बाद मुंबई में उनका नाम गूंजने लगा. वर्ष 2008 में प्रदीप शर्मा पर अंडरवर्ल्ड से जुड़े होने का आरोप लगा. उनका नाम 'लखन भैया फर्जी एनकाउंटर' में आया था, जिसके बाद उन्हें मुंबई पुलिस से सस्पेंड कर दिया गया. 4 साल जेल में काटने के बाद 2009 में कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया. इसके बाद उन्होंने वापस मुंबई पुलिस ज्‍वॉइन कर ली.
Loading...

ये भी पढ़ें-  

मी बोला था- शादी नहीं की तो गिफ्ट करूंगा भाई का शव, अब..

झीलों की नगरी से गुमटियों का शहर बन गया भोपाल 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 19, 2019, 6:53 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...