Home /News /maharashtra /

मुंबई से पाक बॉर्डर पर चले गणपति बप्पा, तनाव को करेंगे दूर

मुंबई से पाक बॉर्डर पर चले गणपति बप्पा, तनाव को करेंगे दूर

मुंबई से पुंछ के लिए रवाना होने वाली गणपति बप्‍पा की प्रतिमा.

मुंबई से पुंछ के लिए रवाना होने वाली गणपति बप्‍पा की प्रतिमा.

पिछले 4 साल से हर साल गणपति के अवसर पर मुंबई से गणपति बप्पा की मूर्ति एलओसी बॉर्डर पर जाती है.

इन दिनों सीमा और जम्मू -कश्मीर के भीतर भी धारा 370 खत्म होने से तनावपूर्ण स्थित बनी हुई है. इस माहौल अच्छा करने और विघ्न को दूर करने के लिए खुद विघ्नहर्ता गणपति मुंबई से पुंछ एलओसी बॉर्डर पर जा रहे हैं. ऐसे में मुंबई के लोग जोर-शोर से गणपति की विदाई करने के लिए पहुंच रहे हैं.

1 दिन तक गणपति के दर्शन के लिए बॉर्डर के लोगों के अलावा आर्मी के लोग भी आते हैं
पिछले 4 साल से हर साल गणपति के अवसर पर मुंबई से गणपति बप्पा की मूर्ति एलओसी बॉर्डर पर पुंछ के पास सार्वजनिक गणेश पंडाल के लिए जाती है, जहां पर 11 दिन तक गणपति के दर्शन और आरती के लिए बॉर्डर के लोगों के अलावा आर्मी के लोग भी आते हैं. इस बार गणपति की बड़ी मूर्ति के अलावा 2 छोटी- छोटी मूर्तीयों को भी भेजा जा रहा है, जो वहां पर बीएसएफ और आर्मी के बॉर्डर स्थित बंकरों में रखा जाएगा.

मुंबई में भी इसी तरीके का बंकर बनाकर गणपति को उसमें लोगों के लिए रखा गया था
इसके लिए मुंबई में भी इसी तरीके का बंकर बनाकर गणपति को उसमें लोगों के लिए रखा गया था. जहां से गणपति की मूर्ति बॉर्डर के लिए रवाना होगी. ऐसे में लोगों को उम्मीद है कि बॉर्डर पर हालात शांत होंगे. साथ ही धारा 370 खत्म होने के बाद जिस तरीके से कश्मीर के भीतर भी तनाव की स्थिति है, ऐसे में गणपति बप्पा के कश्मीर पहुंचने से सब कुछ सही हो जाएगा.

प्रतीकात्मक फोटो
प्रतीकात्मक फोटो


इस बार तनाव काफी ज्यादा है
हर साल पुंछ के एलओसी बॉर्डर पर गणपति ले जाने वाली ईशर दीदी बताती है कि इस बार तनाव काफी ज्यादा है. खासकर 370 खत्म होने के बाद लोगों को लगता है कि कहीं न कहीं सब कुछ कश्मीर में सही नहीं है. इसलिए उम्मीद है कि सबकुछ ठीक होगा. इस बार सेना के जवानों ने बंकर में गणपति बैठाने के लिए 2 छोटी मूर्तियां भी मंगवाई हैं.

रिपोर्टर- अभिषेक पाण्डेय

ये भी पढ़ें- 

मिश्रा को सलामी के वक्‍त इसलिए फुस्‍स हो गई थीं बंदूकें?

बाढ़ पहुंचते ही लगे छोटे सरकार और अनंत सिंह जिंदाबाद के नारे

Tags: Indian army, Jammu and kashmir, Maharashtra, Mumbai

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर