लाइव टीवी

महाराष्ट्र: BJP को मिला सरकार बनाने का न्योता, 11 नवंबर तक साबित करना होगा बहुमत

News18Hindi
Updated: November 9, 2019, 11:30 PM IST
महाराष्ट्र: BJP को मिला सरकार बनाने का न्योता, 11 नवंबर तक साबित करना होगा बहुमत
बीजेपी को मिला सरकार बनाने का मौका

राज्‍यपाल (Governor Bhagat Singh Koshyari) ने महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Election) में सबसे बड़ी पार्टी होने के कारण बीजेपी (BJP) को बहुमत साबित करने का न्‍योता दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2019, 11:30 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) ने सबसे बड़ी पार्टी भाजपा (BJP) को सरकार बनाने का न्‍योता दिया है. बीजेपी को 11 नवंबर तक बहुमत साबित करना होगा. इससे पहले देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने शुक्रवार को राज्‍यपाल से मिलकर इस्‍तीफा सौंपा था.

फडणवीस के इस्‍तीफा देने के बाद राज्‍य की राजनीति और गरमा गई. पहले फडणवीस और फिर उद्धव ने प्रेस कांफ्रेंस की. फडणवीस ने साफ़ कहा कि उन्होंने कभी भी शिवसेना से सीएम पद का वादा नहीं किया था.

फडणवीस ने कहा- सीएम पद पर नहीं हुई थी बात
प्रेस कांफ्रेंस में फडणवीस ने आरोप लगाया था कि शिवसेना के नेताओं ने बीजेपी और मोदी जी पर हमला बोला. साथ ही बीजेपी और शिवसेना के बीच कभी भी सीएम पद को लेकर 50-50 के फॉर्मूले पर निर्णय नहीं हुआ था. मैंने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, नितिन गडकरी से भी इस बारे में पूछा, लेकिन उन्होंने भी सीएम पर 50-50 फॉर्मूले पर किसी भी तरह के फैसले से इनकार किया.

संजय राउत ने किया पलटवार
इसके जवाब में शिवसेना नेता संजय राउत ने प्रेस कॉफ्रेंस करके बीजेपी पर पलटवार किया. उन्‍होंने कहा कि उद्धव ठाकरे से 50-50 के फॉर्मूले पर बात हुई थी. वहीं फडणवीस और संजय राउत की कॉफ्रेंस के बाद उद्धव ठाकरे ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बीजेपी ने हमें झूठा ठहराया है. ऐसा पहली बार हुआ, जब किसी ने ठाकरे परिवार पर झूठ बोलने का आरोप लगाया.

उद्धव ठाकरे ने फडणवीस को आड़े हाथों लिया
Loading...

उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमें अमित शाह और उनकी कंपनी पर भरोसा है. यह बात देवेंद्र फडणवीस याद रखें. बीजेपी सरकार बनाए हमें कोई एतराज नहीं है. उद्धव ठाकरे ने कहा कि अगर बीजेपी सरकार नहीं बनाएगी तो सभी के लिए सारे विकल्‍प खुले हुए हैं. अगर बीजेपी ने आगे भी हमें झूठा कहा तो कोई रिश्‍ता नहीं रखेंगे. उद्धव ठाकरे ने कहा कि अब सभी के लिए विकल्‍प खुले हैं. झूठा ठहराने वाले लोंगो के साथ हमनें जानबूझकर बात नहीं की. वे कह रहे हैं कि शिवसेना ने हमसे बातचीत नहीं की और एनसीपी से बात करते हैं, मिलते हैं. तो क्या हमने सब खुलेआम किया है?

ये भी पढ़ें: Ayodhya Verdict: फडणवीस बोले-SC के फैसले का स्वागत, इससे लोकतंत्र मजबूत होगा

ये भी पढ़ें: Ayodhya Verdict: मुंबई के मुस्लिम नेताओं ने SC के फैसले को किया स्वीकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 7:41 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...