लाइव टीवी

जानिए, वीर सावरकर के लिए हमारे देश के बड़े राजनेता क्या सोचते रहे हैं
Mumbai News in Hindi

News18India
Updated: December 16, 2019, 6:12 PM IST
जानिए, वीर सावरकर के लिए हमारे देश के बड़े राजनेता क्या सोचते रहे हैं
डॉ. राममनोहर लोहिया ने वीर सावरकर को भारतीय स्वतंत्रता संग्राम का महानतम योद्धा बताया है.

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने दिल्ली के रामलीला ग्राउंड में जनसभा को संबोधित करते हुए यह कह डाला कि वह राहुल सावरकर नहीं राहुल गांधी हैं इसलिए वह माफी नहीं मांगेंगे. राहुल गांधी के इस वक्तव्य से परे हटकर देंखे तो वीर सावरकार (Veer Savarkar) के लिए देश के राजनेताओं ने क्या है, जानना चाहिए.

  • News18India
  • Last Updated: December 16, 2019, 6:12 PM IST
  • Share this:
विनायक दामोदर सावरकर यानि वीर सावरकर (Veer Sawarkar) ​इन दिनों सुर्खियों में हैं. दरअसल, कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली के रामलीला ग्राउंड में जनसभा को संबोधित करते हुए यह कह डाला कि वह राहुल सावरकर नहीं राहुल गांधी हैं इसलिए वह माफी नहीं मांगेंगे. राहुल गांधी के इस वक्तव्य से परे हटकर देंखे तो वीर सावरकार के लिए देश के राजनेताओं ने क्या है, जानना चाहिए. डॉ. राममनोहर लोहिया (Dr. Ram Manohar Lohia) )ने वीर सावरकर को स्वतंत्रता संग्राम (Freedom Fighter) का महानतम योद्धा बताया है.

वीर सावरकर की 110वीं जयंती पर स्वातंत्र्यवीर सावरकर राष्ट्रीय स्मारक, मुंबई ने उनकी याद में वर्ष 1993 में 11 भाषाओं में स्मारिका प्रकाशित की गई थी. उस स्मारिका में देश के प्रधानमंत्री, उप-राष्ट्रपति और अलग-अलग राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने स्मारिका के लिए संदेश लिखे थे. भारत के उप-राष्ट्रपति के. आर. नारायण ने सावरकर की 110वीं जयंती पर कहा था-वीर सावरकर भारत के वीर थे. उन्होंने कहा था कि वीर सावरकर ना केवल निर्भीक स्वतंत्रता सेनानी थे, बल्कि वह क्रांतिकारी भी थे. वह देशभक्ति के भाव से भरे हुए थे और देश के लिए उनके मन में अगाध प्रेम था. वह एक चिंतक, लेखक और एक प्रमुख समाज सुधारक थे.

वीर सावरकर महान देशभक्त: पी. वी. नरसिम्हा राव

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री पी. वी. नरसिम्हा राव ने सावरकर की 110वीं जयंती पर कहा था वीर सावरकर महान देशभक्त थे, जिन्होंने स्वतंत्रा संग्राम को अपने प्रयासों से गति दी थी. उनकी लेखनी से उनके समाज सुधार के लिए प्रतिबद्धता को दर्शाता है.

सावरकर के साहसिक योगदान को देश कभी भुला नहीं सकेगा: लालू प्रसाद

राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने इस मौके पर कहा था देश की स्वाधीनता के लिए उनके द्वारा किए गए महान साहसिक योगदान को देश कभी भुला नहीं सकेगा. देश की एकता और अखंडता बनाए रखने में उनके अपूर्व त्याग और बलिदान से हमें शिक्षा मिलती है कि राष्ट्रहित के विषय पर सोचने में हमें क्षुद्र राजनीतिक एवं व्यक्तिगत स्वार्थों से उठकर रहना चाहिए और सांप्रदायिकता तथा अलगाववाद की साजिशों से सावधान रहना चाहिए.

इन राज्यों के पूर्व मुख्यमंत्री ने ये कहा था...हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भजन लाल ने वीर सावरकर की 110वीं जयंती पर कहा कि वे महान देशभक्त थे. उन्होंने देश के लिए जो त्याग, तप किया और कुर्बानियां दी, वे ​इतिहास के पन्नों में स्वर्ण अक्षरों में अंकित रहेंगी. वह एक महान दार्शनिक और समाज सुधारक थे.आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री के विजय भाष्कर रेड्डी ने इस अवसर पर लिखा था- उनके सतत प्रयासों और त्यागों के चलते हमें औपनिवेश सत्ता से आजादी मिल पाई.

महाराष्ट्र के 1993 में तत्कालीन मुख्यमंत्री रहे शरद पवार ने कहा था वीर सवार का बलिदान सर्वोच्च है. पों​डीचेरी के 1993 में तत्कालीन मुख्यमंत्री रहे वी. वैथिलिंगम ने भी वीर सावरकर के लिए कहा था कि मातृभूमि की मुक्ति के लिए वीर सावरकर का प्रयास दुलर्भ और अद्भुत है.

(इनपुट: अभिषेक पांडेय)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 16, 2019, 5:28 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर