Home /News /maharashtra /

'भीख में मिली आजादी' वाले बयान पर कंगना रनौत कानूनी मुश्किल में, भेजा गया लीगल नोटिस

'भीख में मिली आजादी' वाले बयान पर कंगना रनौत कानूनी मुश्किल में, भेजा गया लीगल नोटिस

मुंबई कांग्रेस के महासचिव की तरफ से कंगना रनौत को लीगल नोटिस भेजा गया है. (फाइल फोटो)

मुंबई कांग्रेस के महासचिव की तरफ से कंगना रनौत को लीगल नोटिस भेजा गया है. (फाइल फोटो)

Actress Kangana Ranaut को भेजे लीगल नोटिस में कहा गया है कि यह बयान राष्ट्रीय गरिमा के खिलाफ और असंवैधानिक है. बयान की तुलना देश में दंगों और दहशत की स्थिति को बढ़ावा देने के लिए की गई है. कानूनी नोटिस में कहा गया है कि एक्‍ट्रेस 14 दिनों के भीतर सामाजिक मंच का उपयोग करके अपने शब्दों को जल्द से जल्द वापस लें और राष्ट्रीय गरिमा के खिलाफ की गई अपनी गलतियों को सुधारें. ऐसा न करने पर आपके खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली : अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) द्वारा 1947 में भारत की स्वतंत्रता के संदर्भ में “भीख में मिली आजादी” वाले दिए गए बयान को लेकर वह कानूनी मुश्किल में फंसी हुई हैं. एक्‍ट्रेस के इस विवादित बयान के बाद अब बाद अब मुंबई कांग्रेस (Mumbai Congress) के महासचिव की तरफ से उन्‍हें लीगल नोटिस भेजा गया है. नोटिस में कहा गया है कि कंगना का यह बयान राष्ट्रीय गरिमा के खिलाफ और असंवैधानिक है. वह अपने बयान को वापस लेते हुए माफी मांगे, वरना उनके विरुद्ध सख्‍त कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

मुंबई कांग्रेस महासचिव भारत सिंह ने अपने वकील आशीष राय और अंकित उपाध्याय के माध्यम से कंगना को यह कानूनी नोटिस भेजा है. नोटिस में कहा गया है कि कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने दुनिया भर में प्रसारित इंटरव्यू के जरिए गैर जिम्मेदाराना बयान दिया है, जिसका न केवल राष्ट्रीय गरिमा और भारतीय नागरिकों के सम्मान पर प्रभाव पड़ा, बल्कि महान पूर्व स्वतंत्रता सेनानियों, महान पूर्व स्वतंत्रता नायकों और पूर्व नेताओं की गरिमा और सम्‍मान को भी ठेस पहुंची है.

कंगना की बातों पर बोले तुषार गांधी- लाइमलाइट के लिए ऊल-जुलूल बातें करती हैं

नोटिस में कहा गया है कि यह बयान राष्ट्रीय गरिमा के खिलाफ और असंवैधानिक है. बयान की तुलना देश में दंगों और दहशत की स्थिति को बढ़ावा देने के लिए की गई है. कानूनी नोटिस में कहा गया है कि एक्‍ट्रेस 14 दिनों के भीतर सामाजिक मंच का उपयोग करके अपने शब्दों को जल्द से जल्द वापस लें और राष्ट्रीय गरिमा के खिलाफ की गई अपनी गलतियों को सुधारें. ऐसा न करने पर आपके खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

एक्ट्रेस कंगना रनौत के बयान पर बोले CM नीतीश- ऐसे लोगों की बात पर ध्यान न दें

दरअसल, हाल ही में एक टीवी साक्षात्कार के दौरान कंगना द्वारा कहा गया था कि 1947 में मिली आजादी असल में भीख थी और असली आजादी हमें साल 2014 में मिली है जब पीएम मोदी के नेतृत्व वाली सरकार आई.

Tags: Congress, Kangana Ranaut

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर