लोकसभा चुनाव 2019: वोट डालकर सुशील कुमार शिंदे बोले- मतदाता 2014 में की गई गलती को सुधार लेंगे

महाराष्‍ट्र की 10 सीटों पर चुनाव हो रहे हैं. इनमें 3 सीटें मराठवाड़ा की हैं जबकि 3 सीटें विदर्भ की हैं. हालांकि चार सीटों पर सबसे ज्‍यादा नजर है. इनमें सोलापुर, नांदेड़, अकोला, बीड शामिल हैं. ये सीटें खास इसलिए हैं क्योंकि यहां कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 18, 2019, 3:29 PM IST
  • Share this:
महाराष्‍ट्र में चल रहे दूसरे चरण के चुनाव के दौरान सोलापुर से कांग्रेस उम्‍मीदवार सुशील कुमार शिंदे ने मतदान किया. शिंदे के साथ उनकी पत्‍नी उज्वला शिंदे और बेटी प्रणि‍ति शिन्दे ने भी वोट डाला. इस दौरान सुशील कुमार ने कहा, 'मैंने सोलापुर से कई बार चुनाव लड़ा है. हर बार ही लोगों ने मुझे वोट किया है. मतदाता जानते हैं कि उन्‍होंने 2014 में गलती की और इस साल वे इस गलती को सुधार लेंगे.'

इतना ही नहीं प्रकाश आंबेडकर को लेकर शिंदे ने कहा, 'आंबेडकर वोटकटवा की रणनीति पर काम कर रहे हैं. साल 2014 के अपवाद को छोड़कर मैं हमेशा विजयी रहा हूं और इस बार भी जीत की उम्मीद है. जहां तक मोदी की बात है तो वो खुद को नीची जाति का कह रहे हैं तो कोई आश्चर्य नही है. चायवाला, चौकीदार हो गया तो अब ये नया जुमला चालू कर दिया.'

बता दें कि महाराष्‍ट्र की 10 सीटों पर चुनाव हो रहे हैं. इनमें 3 सीटें मराठवाड़ा की  हैं जबकि 3 सीटें विदर्भ की हैं. हालांकि चार सीटों पर सबसे ज्‍यादा नजर है. इनमें सोलापुर, नांदेड़, अकोला, बीड शामिल हैं. ये सीटें खास इसलिए हैं क्योंकि यहां कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर है. प्रकाश आंबेडकर ( अकोला), अशोक चव्हाण (नांदेड़), डॉ. प्रीतम गोपीनाथ मुंडे (बीड), सुशील कुमार शिंदे (सोलापुर) इन सीटों पर चुनाव मैदान में हैं. इन चार सीटों के अलावा बुलढाना, अमरावती, हिंगोली, परभणी, उस्मानाबाद और लातूर सीट पर भी चुनाव है.



ये भी पढ़ें:
दूसरे चरण की वोटिंग: महाराष्ट्र की वो चार सीटें जिन पर टिकी हैं सबकी निगाहें

संजय राउत का कांग्रेस अध्यक्ष पर तंज, 'शादी होने के लिए पूजा कर रहे हैं राहुल गांधी'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज