Home /News /maharashtra /

बीमा पॉलिसी खरीदने वाले हो जाएं सावधान! 1000 लोगों को लग चुका है लाखों का चूना

बीमा पॉलिसी खरीदने वाले हो जाएं सावधान! 1000 लोगों को लग चुका है लाखों का चूना

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंबई क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे बीमा रैकेट का भंडाफोड़ किया है, जो लोगों को फर्जी बीमा पॉलिसी बेचकर उन्हें लाखों रुपये का चूना लगाए करते थे.

    अगर आप बीमा पॉलिसी खरीद रहे हैं तो सावधान हो जाइए. क्योंकि मुंबई क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे बीमा रैकेट का भंडाफोड़ किया,जो लोगों को फर्जी पॉलिसी बेचकर उन्हें चूना लगाया करता था. इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है. इन आरोपियो ने फर्जी पॉलिसी देने के नाम पर एक-दो नहीं,बल्कि 1000 लोगों को लाखों रुपये का चूना लगा डाला.

    दरअसल कुछ दिन पहले लोअर परेल इलाके में फर्जी बीमा पॉलिसी बेचे जाने की जानकारी क्राइम ब्रांच को मिली थी. जानकारी मिलने के बाद क्राइम ब्रांच की टीम ने जब वन सॉल्यूशन पॉइंट नामक दफ्तर पर छापा मारा तो बड़ी संख्या में कई निजी नामी कंपनियों की फर्जी पॉलिसी बेचे जाने के दस्तावेज हाथ लग. जिससे देख अधिकारी भी दंग रह गए. इस मामले में क्राइम ब्रांच ने प्रशांत सुतार, इनायत बेडरेकर और गजानन पाटिल नामक आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

    आरोपियों से पूछताछ में यह जानकारी सामने आई है कि यह फर्जी कॉल सेंटर को कर्नाटक के बेलगांम से पिछले डेढ़ साल से ऑपरेट किया जा रहा था. आरोपी कमलेश सुतार इस फर्जी कंपनी का सीईओ था, जबकि गजानन पाटिल मुंबई पुलिस की ब्रांच को संभाल रहा था. इनकी मोड्स ऑपरेंडी यह थी कि लोगों की गाड़ियों के इंश्योरेंस का डाटा आरोपियों के पास मौजूद होता था. आरोपी इस बात पर निगरानी करते थे कि किसकी गाड़ी का इंश्योरेंस खत्म हो रहा है.

    ये भी पढ़ें- शरद पवार का पीएम मोदी पर निशाना, पुलवामा पर सर्वदलीय बैठक में मौजूद नहीं थे प्रधानमंत्री

    जैसे ही इंश्योरेंस की तारीख खत्म होती थी आरोपी उस शख्स से तुरंत संपर्क करते थे और घर पर ही आकर नया इंश्योरेंस देने की बात कहते थे. लोग बिना भाग-दौड़ के घर पर बीमा मिलने की लालच में जैसे ही लोग आते, यह रैकेट तुरंत उनके घर पर पहुंच जाता था. सबसे अहम बात यह थी कि आरोपी सिर्फ कैश में पेमेंट लेते थे. इस रैकेट ने लगभग 1000 लोगों को करीब 36-37 लाख का चूना लगाया,ऐसा पुलिस का दावा है.

    रैकेट का पर्दाफाश करने के बाद क्राइम ब्रांच अब इस बात का पता लगाने में जुटी है कि क्या नामी निजी कंपनियों के कुछ लोग भी इनसे मिले हुए हैं, जिनकी मदद से असली-नकली की पहचान में न आने वाले फर्जी दस्तावेजों के जरिए पॉलिसी बेची जा रही थी. साथ ही वह नामी कंपनियों से लोगों से भी पूछताछ की तैयारी क्राइम ब्रांच कर रही है.

    ये भी पढ़ें-

    MNS की सभी FM-रेडियो हाउस को चेतावनी, नुसरत, राहत, आतिफ के गाने न चलाएं

    राहुल गांधी महाराष्ट्र में एक मार्च से शुरू करेंगे लोकसभा चुनाव अभियान

    Tags: Accused arrested, Insurance Policy, Maharashtra, Mumbai, Mumbai police

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर