• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • देवेंद्र फडणवीस के दो करीबी टिकट के प्रयास में, सीएम बोले- बिना काम किए नहीं

देवेंद्र फडणवीस के दो करीबी टिकट के प्रयास में, सीएम बोले- बिना काम किए नहीं

सीएम देवेंद्र फडणवीस (File Photo)

मुख्यमंत्री ने कार्यसमिति में अपने भाषण के दौरान कहा कि जो लोग नजदीकी होने के कारण बिना अपने किसी काम के टिकट मांग रहे हैं, उन्हें टिकट नहीं दिया जाएगा.

  • Share this:
राजनीति में नेता तो कद और कुर्सी के लिए लगे ही रहते हैं. बहुत से नेताओं के सहायक भी राजनीति में हाथ आजमा चुके हैं और सफल भी हुए हैं. महाराष्ट्र की राजनीति में ये ट्रेंड फिर देखने को मिल रहा है. राज्य के कई नेताओं के पीए और सहायक टिकट के लिए जोर-आजमाइश में लग गए हैं. खास तौर से महाराष्ट्र बीजेपी के नेताओं के कार्यालयों में काम करने वाले अब अपनी सेवा का फल चाह रहे हैं.

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस कार्यालय में काम करने वाले दो सहायक भी टिकट की कोशिश में अपनी पूरी ताकत से लगे हुए हैं. चर्चाओं के जोर पकड़ने पर मुख्यमंत्री को इस बारे में बयान भी देना पड़ा. इसके अलावा राज्य बीजेपी में इस बात की भी चर्चा खूब है कि एक केंद्रीय मंत्री के पीए भी अपने लिए टिकट की जोर शोर से कोशिश में लगे हुए हैं.

बड़े नेता के पीए भी टिकट मांग रहे
जानकारों के मुताबिक, मुख्यमंत्री कार्यालय के एक सहायक लातूर के अवसा सीट से टिकट मांग रहे हैं. बताया जा रहा है कि उन्होंने इस ओर काम भी शुरू कर दिया है. जबकि एक अन्य वर्धा से टिकट चाह रहे हैं. खबर तो ये भी है कि वर्धा से ही एक और बड़े नेता के पीए भी टिकट मांग रहे हैं और विधायक बनकर विधानसभा में पहुंचना चाहते हैं.

हालांकि यह चर्चा सार्वजिनक होने के बाद खुद मुख्यमंत्री को सामने आना पड़ा. मुख्यमंत्री ने कार्यसमिति में अपने भाषण के दौरान कहा कि जो लोग नजदीकी होने के कारण बिना अपने किसी काम के टिकट मांग रहे हैं, उन्हें टिकट नहीं दिया जाएगा. फिर भी टिकट मांगने वालों की तादाद में इजाफा हो रहा है.

टिकट मिलने पर जीतने के पक्के दावे भी कर रहे
खास बात ये है कि ये सभी हिसाब से टिकट मिलने पर जीतने के पक्के दावे भी कर रहे हैं. उनकी अपनी दलीलें भी हैं. वैसे भी बीजेपी में सहायक के तौर पर काम करने वाले बहुत से लोग राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ या अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की पृष्टभूमि से आते हैं. इनमें से बहुत से युवा ऐसे भी होते हैं जिन्हें बीजेपी के बड़े नेताओं के साथ काम करने का मौका मिल चुका होता है. इन टिकट चाहने वालों में एक सज्जन ऐसे ही हैं जो महाराष्ट्र के प्रभारी रहे ओम प्रकाश माथुर के साथ भी काम कर चुके हैं. ओम माथुर को भी पार्टी में बड़े कद का नेता माना जाता है.

ऐसा नहीं है कि महाराष्ट्र में ये पहली बार हो रहा हो, जब बड़े नेताओं के पीए टिकट लेकर विधानसभा पहुंचने की कोशिश करेंगे. इसके पहले भी इस तरीके की चीजें हो सकती हो चुकी है. शरद पवार के पीए दिलीप वलसे पाटील महाराष्ट्र विधानसभा में पहुंचे थे और उसके साथ ही बीजेपी से वर्षों से विधायक अमित साटम भी गोपीनाथ मुंडे के पीए रह चुके हैं. साथ ही साथ प्रमोद महाजन के भी ऑफिस में काम करने वाले राम कदम फिलहाल मुंबई के ही घाटकोपर विधानसभा सीट से विधायक बनकर विधानसभा में पहुंचे हैं.

ये भी पढ़ें--

Bandra Fire Today: MTNL की इमारत में लगी भीषण आग, 25 लोगों को निकाला

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज