शिवसेना के तेवर हुए और तल्‍ख, कहा- 144 सीटें नहीं तो BJP से गठबंधन भी नहीं
Mumbai News in Hindi

शिवसेना के तेवर हुए और तल्‍ख, कहा- 144 सीटें नहीं तो BJP से गठबंधन भी नहीं
संजय राउत ने कहा है कि शिवसेना सत्य की राजनीति करती है. (फाइल फोटो)

महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव को लेकर शिवसेना (Shiv Sena) ने बड़ा ऐलान किया है. पार्टी के वरिष्‍ठ नेता संजय राउत ने कहा कि BJP के साथ 50-50 फॉर्मूले पर ही चुनावी गठजोड़ किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 19, 2019, 11:57 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्‍ट्र में सभी दल विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटे हैं, लेकिन सीट बंटवारे को लेकर BJP और शिवसेना (Shiv Sena) के बीच जारी तल्‍खी लगातार बढ़ती ही जा रही है. शिवसेना के वरिष्‍ठ नेता संजय राउत ने स्‍पष्‍ट कर दिया कि उनकी पार्टी बराबरी की स्थिति में ही बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी. संजय राउत ने साफ शब्‍दों में कहा कि 144 सीटें नहीं मिलेंगी तो बीजेपी के साथ विधानसभा चुनावों में गठजोड़ भी नहीं किया जाएगा. बता दें कि महाराष्‍ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी और शिवसेना के बीच राज्य में सीट बंटवारे को लेकर स्थिति साफ होती नहीं दिख रही है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बीजेपी-शिवसेना गठबंधन में भाजपा बड़े भाई की भूमिका निभाना चाहती है. वहीं, शिवसेना बराबरी का दर्जा चाहती है. ऐसे में दोनों दलों के बीच सीट बंटवारे को लेकर रस्‍साकशी चल रही है. ऐसे माहौल में संजय राउत के बयान की अहमियत बढ़ जाती है.

50-50 फॉर्मूले पर अड़ी शिवसेना
दरअसल, संजय राउत से पहले महाराष्‍ट्र के मंत्री और शिवसेना नेता दिवाकर राउते ने कहा था कि 144 सीटें नहीं मिलने पर बीजेपी के साथ चुनावी गठजोड़ टूट सकता है. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए संजय राउत ने कहा, 'जब अमित शाह और मुख्‍यमंत्री (देवेंद्र फड़णवीस) के बीच बातचीत के दौरान 50-50 का फॉर्मूला अपनाने का फैसला कर लिया गया तो यह बयान (दिवाकर राउते का बयान) गलत नहीं है. चुनाव साथ (बीजेपी के) लड़ेंगे, क्‍यों नहीं लड़ेंगे.'






कभी नरम, कभी गरम
सीट बंटवारे से पहले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने अनुच्छेद 370 को लेकर केंद्र सरकार की तारीफ की थी. साथ ही उन्होंने राम मंदिर बनाने की मांग भी की थी. उन्होंने कहा था कि अब राम मंदिर के लिए इंतजार करने का कोई मतलब नहीं बनता है. ठाकरे ने कहा था कि हमनें शिवसेना कार्यकर्ताओं से कहा है कि वह तैयार रहे हैं. अब समय आ गया है जब राम मंदिर की आधारशिला अयोध्या में रखी जाएगी. यह वह सपना है जिसे हमारे संस्थापक बालासाहेब ठाकरे ने देखा था.

ये भी पढ़ें:

चुनाव से पहले BJP-शिवसेना में सीट बंटवारे को लेकर घमासान
गडकरी बोले- महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए होगा भाजपा-शिवसेना का गठबंधन
BREAKING: महाराष्ट्र-हरियाणा के साथ नहीं होंगे झारखंड के चुनाव- EC सूत्र
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading