लाइव टीवी

महाराष्ट्र: NCP ने कई शहरों में लगवाए शरद पवार के होर्डिग्‍स, लिखा- 'बाप, बाप होता है'

News18Hindi
Updated: October 26, 2019, 7:28 PM IST

महाराष्ट्र (Maharashtra) में बीजेपी (BJP) को मनमुताबिक नतीजे नहीं आए हैं. 2014 के विधानसभा चुनाव (Assembly Election) में बीजेपी को 122 सीटें मिली थीं. वहीं शिवसेना ने 63 सीटों पर जीत हासिल की थी. 2014 के चुनाव में अलग-अलग लड़कर भी बीजेपी ने 122 सीटें जीती थीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2019, 7:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 (Maharashtra Assembly Elections 2019) के नतीजों ने भले ही एनसीपी-कांग्रेस (NCP-Congress) गठबंधन को निराश किया हो, लेकिन एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार (Sharad Pawar) ने इस चुनाव में अपना दम दिखा दिया है. एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन के अंदर भी छोटे भाई बन कर रहने वाले शरद पवार इस चुनाव में बड़े भाई की भूमिका में सामने आए हैं.

साथ ही सतारा विधानसभा सीट जीत कर ये दिखा दिया है कि 79 साल की इस हड्डी में अभी भी काफी दमखम बचा है. शरद पवार की दमखम को प्रदर्शित करने के लिए शनिवार को महाराष्ट्र के कोल्हापुर में शरद पवार के बड़े-बड़े होर्डिग्स लगे हैं, जिसमें लिखा है 'बाप, बाप होता है. इसी तरह के पोस्टर शुक्रवार को सतारा में भी लगाए गए थे. यह पोस्टर महाराष्ट्र में चर्चा का विषय बना हुआ है. राष्ट्रवादी युवा कांग्रेस ने इस पोस्टर को लगाया है.

महाराष्ट्र के कोल्हापुर में शरद पवार के बड़े-बड़े होर्डिग्स लगे हैं, जिसमें लिखा है 'बाप, बाप होता है.


महाराष्ट्र की राजनीति में है बड़ा कद

जानकारों का मानना है कि एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने इस विधानसभा चुनाव में महाराष्ट्र की जनता का मन जीत लिया है. 'अबकी बार 220 के पार पर बीच में खड़े थे शरद पवार' हाल ही में ये मैसेज सोशल मीडिया (Social Media) पर भी खूब वायरल हो रहा था. आसान लग रही बीजेपी-शिवसेना गठबंधन की जीत को शरद पवार ने कड़ी चुनौती दी थी. 79 साल के पवार ने अकेले ही पार्टी के प्रचार की जिम्मेदारी अपने कंधों पर संभाली.

शरद पवार ने पूरे महाराष्ट्र में घूम-घूमकर सबसे ज्यादा 57 सभाएं की


महाराष्ट्र की राजनीतिक को करीब से समझने वाले भी मानते हैं कि जहां एक ओर कांग्रेस के बड़े चेहरे अपने-अपने विधानसभाओं में सिमटकर रह गए थे, वहीं शरद पवार ने पूरे महाराष्ट्र में घूम-घूमकर सबसे ज्यादा 57 सभाएं की. इसी के बलबूते 104 में से 54 सीटों पर एनसीपी उम्मीदवार को जीत मिली. भले ही बीजेपी और शिवसेना गठबंधन 145 के जादुई आंकड़े से आगे हो, लेकिन शिवसेना आदित्य ठाकरे के सीएम पद को लेकर अड़ी हुई है.
Loading...

एनसीपी महाराष्ट्र चुनाव में दमखम से लड़ी
शिवसेना को मिली सफलता को देखते हुए 50-50 फॉर्मूला के फैसले पर उद्धव ठाकरे बीजेपी से चर्चा कर रहे हैं. वहीं, एनसीपी नेता छगन भुजबल ने आदित्य को मुख्मंत्री बनाने के लिए तैयार होने की बात कह राज्य का समीकरण बदलने का पुरजोर प्रयास किया है.

आरे (Aarey forest) में पेड़ कटाई से लेकर शरद पवार (Sharad Pawar) के खिलाफ ईडी की जांच सहित कई मुद्दों पर बीजेपी को घेरने वाली शिवसेना आक्रामक रूप अख्तियार कर बीजेपी पर कटाक्ष का कोई मौका नहीं चूक रही है.
आरे (Aarey forest) में पेड़ कटाई से लेकर शरद पवार (Sharad Pawar) के खिलाफ ईडी की जांच सहित कई मुद्दों पर बीजेपी को घेरने वाली शिवसेना आक्रामक रूप अख्तियार कर बीजेपी पर कटाक्ष का कोई मौका नहीं चूक रही है.


बता दें कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में बीजेपी (BJP) को मनमुताबिक नतीजे नहीं आए हैं. 2014 के विधानसभा चुनाव (Assembly Election) में बीजेपी को 122 सीटें मिली थीं. वहीं शिवसेना ने 63 सीटों पर जीत हासिल की थी. 2014 के चुनाव में अलग-अलग लड़कर भी बीजेपी ने 122 सीटें जीती थीं. इस बार बीजेपी-शिवसेना गठबंधन करके चुनाव में उतरी थी, लेकिन फिर भी उसे पिछले चुनाव की तुलना में करीब 20 सीटों का नुकसान उठाना पड़ा है. एनडीए को इस बार 160 सीटें मिली हैं. शिवसेना को इस चुनाव में 57 सीटें मिली है. आदित्य ठाकरे ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि 2019 विधानसभा के विधायक के रूप में चुने जाने वाले सभी लोगों को बधाई! अब हमारी जिम्मेदारी एक साथ राज्य के लिए काम करने की है.

ये भी पढ़ें: 

Maharashtra Assembly Election Result 2019: बीजेपी की जीत पर देवेंद्र फडणवीस ने कहीं ये 5 बड़ी बात

Haryana Assembly Election Result 2019: खट्टर मंत्रिमंडल के कई चेहरे हुए धराशायी, जानें वजह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 26, 2019, 6:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...