अजित पवार से मिलकर बोले छगन भुजबल- सरकार आती जाती रहती है, परिवार नहीं टूटना चाहिए

छगन भुजबल ने कहा कि सरकार तो आती जाती रहती हैं, लेकिन परिवार नहीं टूटना चाहिए.
छगन भुजबल ने कहा कि सरकार तो आती जाती रहती हैं, लेकिन परिवार नहीं टूटना चाहिए.

अजित पवार (Ajit Pawar) से मिलने के बाद छगन भुजबल (Chhagan Bhujbal) ने कहा कि सरकार तो आती जाती रहती हैं, लेकिन परिवार नहीं टूटना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 25, 2019, 2:02 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सत्ता को लेकर पिछले तीन दिनों में जोड़-तोड़ के एक के बाद एक कई चौंकाने वाले ट्विस्ट देखे गए. बीजेपी (BJP) जहां सरकार बनाने के बाद बहुमत जुटाने की जद्दोजहद में जुटी है. वहीं विपक्षी खेमा अपने विधायकों को बचाने में लगा हुआ है. इसी क्रम में एनसीपी (NCP) से बागी होकर बीजेपी को समर्थन देने वाले अजित पवार (Ajit Pawar) को मनाने की कोशिशें जारी हैं. एनसीपी नेता छगन भुजबल अजित पवार से बातचीत करने सोमवार को उनके घर पहुंचे. हालांकि, यह मुलाकात बेनतीजा रही और अजित पवार नहीं माने.

छगन भुजबल (Chhagan Bhujbal) ने कहा कि सरकार तो आती जाती रहती हैं, लेकिन परिवार नहीं टूटना चाहिए. इससे पहले आज तड़के पांच बजे छगन भुजबल अपने विधायकों से मिलने पहुंचे थे. उन्होंने कहा, 'हमारे एक या दो विधायक को छोड़कर सभी विधायक यहां मौजूद हैं.'

एनसीपी ने सभी विधायकों को होटल में ठहराया
बता दें कि शरद पवार की पार्टी से विधायकों के टूटने की संभावना जताई जा रही है. इसी वजह से पार्टी ने अपने सभी विधायकों को मुंबई के एक ही होटल में ठहराया है. पार्टी का दावा है कि अजित पवार के साथ बीजेपी को समर्थन देने वाले ज्यादातर विधायक के पास लौट आए हैं. पार्टी ने कहा कि हमारे पास 52 विधायक मौजूद हैं.
'अजित पवार को देना चाहिए इस्तीफा'


एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने रविवार को कहा था कि अजित पवार अपनी गलती मान लें तो अच्छा होगा. इसी के बाद उम्मीद की जा रही थी कि उन्हें मनाने की कोशिश की जाएगी. नवाब मलिक (Nawab Malik) ने सोमवार को दावा किया कि उनके पास 165 विधायकों का समर्थन है. उन्होंने कहि कि अजित पवार को छोड़कर 53 विधायक एनसीपी के साथ खड़े हैं. ऐसे में एनसीपी हर हाल में सरकार बनाएगी. साथ ही उन्होंने कहा कि अजित पवार (Ajit Pawar) ने भारतीय जनता पार्टी के साथ जाकर गलती की है. उन्हें अब पार्टी से जुड़े रहने का कोई अधिकार नहीं है. नवाब मलिक ने कहा कि अजित पवार को इस्तीफा दे देना चाहिए.

ये भी पढ़ें-

महाराष्ट्र में MLA बचाओ अभियान, शिवसेना ने अपने विधायकों को दूसरी जगह किया शिफ्ट

महाराष्ट्र में कुर्सी की लड़ाई: पूर्व CM का दावा- कुछ NCP विधायकों ने दोनों जगह किए हस्ताक्षर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज