महाराष्ट्र में बाढ़: राहत के लिए CM फडणवीस और मंत्री दान करेंगे एक माह का वेतन

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra fadnavis) और सभी कैबिनेट मंत्रियों ने मंगलवार को मुख्यमंत्री राहत कोष (chief minister relief fund) के लिए अपना एक महीने का वेतन दान करने का फैसला किया है.

News18Hindi
Updated: August 13, 2019, 7:41 PM IST
महाराष्ट्र में बाढ़: राहत के लिए CM फडणवीस और मंत्री दान करेंगे एक माह का वेतन
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra fadnavis) और सभी कैबिनेट मंत्रियों ने मंगलवार को मुख्यमंत्री राहत कोष (chief minister relief fund) के लिए अपना एक महीने का वेतन दान करने का फैसला किया है.
News18Hindi
Updated: August 13, 2019, 7:41 PM IST
बाढ़ से जूझ रहे महाराष्ट्र (Maharashtra) में अबतक बाढ़ और बारिश की वजह से 43 लोगों की जान चली गई है. राज्य के बाढ़ (Flood) प्रभावित इलाकों से अभी तक 4 लाख लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला जा चुका है. राज्य में बाढ़ से हुई तबाही को देखते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra fadnavis) और सभी कैबिनेट मंत्रियों ने मंगलवार को मुख्यमंत्री राहत कोष (chief minister relief fund) के लिए अपना एक महीने का वेतन दान करने का फैसला किया है.

मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) के एक अधिकारी ने कहा, इस राशि का उपयोग बाढ़ से प्रभावित लोगों को राहत देने और उनके पुनर्वास की सुविधा प्रदान करने के लिए किया जाएगा. इस ऐलान के बाद ही कई मंत्रियों ने मुख्यमंत्री राहत कोष में लाखों रुपये दान में दे दिए. सीएम फडणवीस ने दान देने वाले मंत्रियों और अन्य की तस्वीरें अपने ट्विटर एकाउंट पर शेयर करते हुए उन्हें धन्यवाद दिया.

सीएम देवेंद्र फडणवीस की ट्वीट


बाढ़ और बारिश से जुड़ी घटनाओं में 43 लोगों की मौत

महाराष्ट्र में बाढ़ और बारिश से जुड़ी घटनाओं में 43 लोगों की जान चली गई है. बाढ़ ने सतारा, पुणे और सोलापुर जिलों को प्रभावित करने के अलावा पश्चिमी महाराष्ट्र के कोल्हापुर और सांगली जिलों में बड़े पैमाने पर तबाही मचाई है. ठाणे, नासिक, पालघर, रत्नागिरी, रायगढ़ और सिंधुदुर्ग जिलों में भी भारी बारिश हुई है.

मुंबई कांग्रेस बाढ़ प्रभावित इलाकों में भेजेगी राहत सामग्री
मुंबई कांग्रेस ने भी अपने नेताओं से एक महीने का वेतन/पेंशन बाढ़ राहत कोष में दान करने की अपील की है. मुंबई कांग्रेस अगले कुछ दिनों में बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत सामग्री से भरे ट्रकों को रवाना करेगा.
Loading...

अन्य अधिकारी ने बताया कि राज्य में सबसे ज्यादा प्रभावित कोल्हापुर और सांगली जिलों से अभी तक करीब 3.78 लाख लोगों को बचाया जा चुका है. इन जिलों में शनिवार को पानी का स्तर धीरे-धीरे कम होना शुरू हो गया है. उन्होंने बताया, राज्यभर से अभी तक कुल 4,24,333 लोगों को बचाया जा चुका है. इनमें से अकेले कोल्हापुर से 2.33 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया गया है. 69 तहसीलों में कुल 761 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं.

ये भी पढ़ें--

नागपुर से दिल्ली आ रहे विमान में खराबी, गडकरी भी थे सवार

गड्ढे में गिरी स्कूल बस, 14 छात्र गंभीर रूप से घायल
First published: August 13, 2019, 7:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...