महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी से पूछे ये 10 सवाल
Mumbai News in Hindi

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी से पूछे ये 10 सवाल
बीजेपी नेताओं के भड़काउ बयान को लेकर कांग्रेस ने जमकर निशाना साधा है.

कांग्रेस (Congress) प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Sujewala) ने मीडिया से बात करते हुए कहा, '23 नवंबर का दिन देश के इतिहास में काले अध्याय के रूप में दर्ज होगा. सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी ने अवसरवादी अजित पवार (Ajit Pawar) को जेल का डर दिखाकर देश के लोकतंत्र (Democracy) की हत्या कर दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2019, 9:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन के बाद कांग्रेस (Congress) पार्टी आक्रमक रुख अख्तियार कर लिया है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Sujewala) ने मीडिया से बात करते हुए कहा, '23 नवंबर का दिन देश के इतिहास में काले अध्याय के रूप में दर्ज होगा.' सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी ने अवसरवादी अजित पवार (Ajit Pawar) को जेल का डर दिखाकर देश के लोकतंत्र (Democracy) की हत्या कर दी. ये महाराष्ट्र के लोगों के साथ धोखा है.



रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadanvis) एनसीपी (NCP) नेता अजित पवार को जेल भेजना चाहते थे, लेकिन मंत्रालय देकर भेज दिया. महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari Governor of Maharashtra) ने अमित शाह (Amit Shah) के हिटमैन का काम किया है. रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया के माध्यम से पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के सामने 10 सवाल पूछे हैं.



1- बीजेपी ने सरकार बनाने का दावा कब पेश किया?
2- बीजेपी के लिस्ट में कितने विधायकों का हस्ताक्षर था?

3- राज्यपाल ने विधायकों के हस्ताक्षर को कब वेरिफाई किया?

4- राष्ट्रपति शासन कब हटाया गया और केंद्रीय कैबिनेट की बैठक कब हुई?

5- केंद्रीय कैबिनेट की सिफारिश राष्ट्रपति को कब भेजी गई?

6- महाराष्ट्र के मुख्य न्यायधीश को शपथ में क्यूं नहीं बुलाया गया?

7- बीजेपी के द्वारा सरकार बनाने का दावा कब और किसने पेश किया?

8- क्यों नहीं बताया गया कि कितने समय में बहुमत साबित करना है?

9- केंद्र सरकार ने कितने बजे राष्ट्रपति शासन हटाने की अनुशंसा की? कितने बजे राष्ट्रपति के पास भेजा गया?  शपथ ग्रहण कार्यक्रम कितने बजे हुआ?

10- एक प्राइवेट न्यूज एजेंसी को छोड़कर किसी अधिकारी, किसी नेता को क्यों नहीं बुलाया गया?

बता दें, शनिवार की सुबह शनिवार सुबह देवेंद्र फडणवीस ने सीएम पद तो वहीं अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली. इसके बाद महाराष्ट्र में सियासी माहौल गरमा गया है. शरद पवार, एनसीपी विधायकों के साथ बैठक कर रहे हैं. अभी तक 48 विधायकों के बैठक में पहुंचने की खबर है. बता दें कि एनसीपी के साथ 54 विधायक हैं.

ये भी पढ़ें: 

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पहले ही कर दी भविष्यवाणी, अब सच साबित हुई
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज