महाराष्‍ट्र सरकार में रार! कांग्रेस ने शिवसेना सांसद संजय राउत को बताया NCP चीफ शरद पवार का प्रवक्‍ता

राउत ने यह भी कहा कि सचिन वाजे प्रकरण ने प्रदेश में शिवसेना नीत गठबंधन सरकार को एक अच्छा सबक सिखाया है (File pic)

राउत ने यह भी कहा कि सचिन वाजे प्रकरण ने प्रदेश में शिवसेना नीत गठबंधन सरकार को एक अच्छा सबक सिखाया है (File pic)

Maharashtra: संजय राउत ने हाल ही में कहा था कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन अब लकवाग्रस्त हो गया है इसलिए शरद पवार जैसे एक गैर कांग्रेसी नेता को गठबंधन का प्रमुख बनाया जाना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 7:47 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्‍नर परमबीर सिंह (Param bir singh) के पत्र के बाद खराब हुए सियासी हालात ठीक होने का नाम नहीं ले रहे हैं. इसका असर अब महाराष्‍ट्र की गठबंधन सरकार में रार के तौर पर दिखने लगा है. दरअसल अब कांग्रेस (Congress) ने शिवसेना के नेता संजय राउत (Sanjay Raut) और एनसीपी चीफ शरद पवार (Sharad Pawar) पर निशाना साधा है. कांग्रेस नेता नाना पटोले ने संजय राउत को शरद पवार का प्रवक्‍ता कहा है. उनकी यह प्रतिक्रिया राउत के उस बयान पर आई है, जिसमें उन्‍होंने कहा था कि पवार को यूपीए का अध्‍यक्ष होना चाहिए.

कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष नाना पटाले ने संजय राउत पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्‍हें इस तरह का बयान देने का कोई अधिकार नहीं है. वह इस मामले में मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे से चर्चा करेंगे. नाना पटोले ने कहा वे अपने पार्टी नेतृत्‍व को लेकर ऐसे बयान स्‍वीकार नहीं करेंगे.

बता दें कि संजय राउत ने हाल ही में कहा था कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन अब लकवाग्रस्त हो गया है इसलिए शरद पवार जैसे एक गैर कांग्रेसी नेता को गठबंधन का प्रमुख बनाया जाना चाहिए. राउत ने इससे पहले भी कई बार ऐसा सुझाव दिया है. यह पूछे जाने पर कि क्या अन्य पार्टियां इस मांग का समर्थन करती हैं, उन्होंने कहा था, 'मुझे नहीं लगता कि देश में किसी क्षेत्रीय पार्टी को पवार द्वारा संप्रग का नेतृत्व करने पर ऐतराज हो सकता है. इस समय हम सभी भाजपा विरोधी हैं.'

राउत के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा था, 'शिवसेना संप्रग का हिस्सा भी नहीं है. अगर वह संप्रग का हिस्सा होती तो समझ में आता. उन्हें (राउत) इस तरह का बयान नहीं देना चाहिए.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज