महाराष्ट्र में बारिश का कहर: पालघर में पुल का एक हिस्सा बहा, पुणे में अलर्ट जारी

पुणे में रविवार को भारी बारिश के साथ ही जिला प्रशासन ने एक एडवाइजरी जारी कर लोगों से सतर्क रहने को कहा है. प्रशासन ने यह आशंका भी जताई है कि स्थिति नाजुक हो सकती है

News18Hindi
Updated: August 4, 2019, 10:59 PM IST
महाराष्ट्र में बारिश का कहर: पालघर में पुल का एक हिस्सा बहा, पुणे में अलर्ट जारी
पुणे के हॉस्पीटल के बाहर का दृश्य
News18Hindi
Updated: August 4, 2019, 10:59 PM IST
महाराष्ट्र में बारिश कहर बनकर टूटी है. पालघर में पिंजाल नदी पर वाडा और मालवाडा को जोड़ने वाले पुल का एक हिस्सा भारी बारिश के कारण रविवार की दोपहर में बह गया. वहीं पुणे में भारी बारिश के साथ ही जिला प्रशासन ने एक एडवाइजरी जारी कर लोगों से सतर्क रहने को कहा है. प्रशासन ने यह आशंका भी जताई है कि स्थिति नाजुक हो सकती है. जबकि ठाणे जिले के एक गांव में फंसे 35 लोगों को भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के एक हेलीकॉप्टर ने सुरक्षित निकाल लिया है.

पालघर के पुलिस प्रवक्ता हेमंत काटकर ने बताया कि पिंजाल नदी पर वाडा और मालवाडा को जोड़ने वाले पुल का एक हिस्सा बारिश में बह गया. घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है, लेकिन मुख्य सड़क पर आवाजाही थम गई है. अधिकारी ने बताया कि दूसरी घटना में भारी बारिश के बाद विरार के बथाने गांव में स्थानीय पुलिस और नगर निकाय के आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ ने 15 लोगों को बचाया गया है. अधिकारी ने बताया कि मानूर में पानी भरने के बाद एक गोदाम में चार लोगों और एक अन्य जगह फंसे आठ लोगों को सुरक्षित निकाला गया है. उन्होंने बताया कि यहां वालिव में खानबाग पुल पर एक ट्रक दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसके बाद फंसे हुए तीन लोगों को निकाला गया. उन्होंने बताया कि फुलपडा में पाडी किंडी बांध में एक व्यक्ति के डूबने की आशंका है और उसकी तलाश की जा रही है.

पुणे शहर का एक दृश्य


पुणे प्रशासन ने भारी बारिश को लेकर लोगों को सतर्क किया

पुणे में रविवार को भारी बारिश के साथ ही जिला प्रशासन ने एक एडवाइजरी जारी कर लोगों से सतर्क रहने को कहा है. प्रशासन ने यह आशंका भी जताई है कि स्थिति नाजुक हो सकती है. इसके मद्देनजर स्कूलों और कॉलेजों को सोमवार को बंद रखने का आदेश दिया है. शहर को जलापूर्ति करने वाले बांधों के जलग्रहण क्षेत्रों में लगातार बारिश होने के चलते रविवार को मुठा नदी में पानी छोड़े जाने के बाद जिले में निचले इलाकों को सतर्क कर दिया गया है. जिला कलेक्टर नवल किशोर राम ने कहा है कि बारिश को लेकर यहां और पिंपरी छिंदवाड़ में सोमवार को शैक्षणिक संस्थानों को बंद रखने का आदेश जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि भारी बारिश के चलते बांधों से पानी छोड़े जाने के बाद मुला, मुठा, पावना, भीमा और नीरा नदियां उफान पर हैं.

बाढ़ प्रभावित इलाके से 2500 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया
जिला कलेक्टर नवल किशोर राम ने कहा, ‘हमने नागरिकों को एक परामर्श जारी कर अपने घरों से तब तक नहीं निकलने को कहा है, जबतक कि बहुत जरूरी ना हो क्योंकि स्थिति नाजुक हो सकती है.’ उन्होंने कहा कि जिले के बाढ़ प्रभावित इलाके से अब तक 2000 से 2500 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. वहीं राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के एक अधिकारी ने बताया कि कामशेट इलाके में एक मकान में फंसे एक परिवार के सात लोगों को बल की एक टीम ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया. इस मकान में पानी भर गया था. खडकवासला बांध से और ज्यादा पानी छोड़े जाने के बाद बालेवाडी, बानेर, औंध, यरवदा, सिंघाद रोड और बोपोडी के निचले इलाके में जल जमाव हो गया है. दमकल विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि निचले इलाके में रहने वाले लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा रहा है. सिंचाई विभाग के मुताबिक, चार बांधों- खडकवासला, पनसेट, वर्सागांव और तेमघर के जलग्रहण क्षेत्र में लगातार बारिश हुई है. सिंचाई विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘सभी चारों बांध अधिकतम भंडारण क्षमता से भरे हुए हैं। इसके कारण मुठा नदी में पानी छोड़ा जा रहा है.’
Loading...

पुणे के एक हॉस्पिटल से लोगों को बाहर निकालती एनडीआरएफ की टीम


ठाणे जिले में फंसे 35 लोगों को हेलीकॉप्टर से निकाला
महाराष्ट्र के ठाणे जिले के एक गांव में फंसे 35 लोगों को निकालने के लिए भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के एक हेलीकॉप्टर को भेजा गया है. ठाणे के रेजिडेन्ट उप-कलेक्टर शिवाजी पाटिल ने बताया कि कल्याण तालुका के खदावली के पास जू-नंदखुरी गांव में सुबह 10 बजे से लोग अपने घरों में फंस गए. उनके घरों में पानी भर गया. रक्षा अधिकारी ने कहा कि राज्य सरकार के अनुरोध पर 35 लोगों को निकालने के लिए आईएएफ ने सांताक्रूज (मुम्बई में) से एक एमआई17 हेलीकॉप्टर को भेजा गया. हेलिकॉप्टर के जरिए पानी में फंसे हुए लोगों को वहां से निकाल सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है. बता दें, मुंबई और उसके निकटवर्ती जिले ठाणे और पालघर में भी पिछले दो दिनों से रुक-रुक कर बारिश जारी है.

ये भी पढ़ें-

झारखंड में नीतीश मॉडल पर अकेले चुनाव लड़ेगी JDU, जीत के लिए पार्टी ने बनाया ये प्लान

भगवान शिव के बाद अब 'हीरो' बने तेज प्रताप यादव, मिले कमेंट्स- CM बनो भाईजान

चलती ट्रेन में प्रेग्नेंट लेडी को हुआ लेबर पेन, NCC कैडेट्स ने कराई डिलीवरी
First published: August 4, 2019, 8:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...