महाराष्‍ट्र में कोरोना का कहर, सरकार ने केरल से मांगी मदद, कहा- भेजें डॉक्‍टर और नर्स

महाराष्‍ट्र में कोविड 19 के मामले 50 हजार के पार.
महाराष्‍ट्र में कोविड 19 के मामले 50 हजार के पार.

महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के मामले बढ़कर 50 हजार के ऊपर पहुंच गए हैं. महाराष्‍ट्र सरकार ने केरल सरकार को पत्र लिखा है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) कहर बरपा रहा है. राज्‍य में कोविड 19 (Covid 19) के केस रविवार को बढ़कर 50 हजार के पार पहुंच गए हैं. साथ ही राज्‍य में मौतों का आंकड़ा बढ़कर 1635 हो गया है. इन सबके बीच महाराष्‍ट्र सरकार ने केरल (Kerala) से मदद की अपील की है. महाराष्‍ट्र सरकार ने केरल को पत्र लिखकर कहा है कि वो महाराष्‍ट्र में अनुभवी डॉक्‍टर और नर्स भेजे ताकि प्रदेश में भी कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति ठीक हो सके. बता दें कि केरल ने अपने प्रयासों से कोविड 19 के मामलों को कम करने में सफलता पाई है.

महाराष्‍ट्र सरकार की ओर से लिखे पत्र में कहा गया है कि महाराष्‍ट्र के मुंबई और पुणे में कोरोना वायरस संक्रमण के अधिक मामले तेजी से सामने आ रहे हैं. ऐसी आशंका है कि घनी आबादी वाले मुंबई और पुणे में भविष्‍य में भी कोविड 19 के अधिक मामले सामने आ सकते हैं.

महाराष्‍ट्र सरकार ने लिखा केरल को पत्र.




मुंबई में बन रहा कोविड 19 अस्‍पताल
पत्र में लिखा गया है कि चिंताजनक स्थिति को देखते हुए महाराष्‍ट्र सरकार मुंबई के महालक्ष्‍मी रेसकोर्स इलाके में 600 बेड वाला कोविड 19 हॉस्पिटल बनाने जा रहा है. इसमें 125 बेड का आईसीयू भी होगा. कोविड 19 के मध्‍यम लक्षण वाले मरीजों को इसमें रखा जाएगा.

'हमें डॉक्‍टर और नर्स चाहिए'
महाराष्‍ट्र सरकार ने कहा है, 'हम पर्याप्‍त मानव क्षमता को बनाए रखने के लिए काम कर रहे हैं. मौजूदा समय में डॉक्‍टर और पैरामेडिकल स्‍टाफ अपनी पूरी क्षमता के साथ काम कर रहे हैं. सरकार निजी डॉक्‍टरों से भी सेवाएं ले रही है. हमें अतिरिक्‍त डॉक्‍टर और नर्स की जरूरत है.'

News18 Polls: लॉकडाउन खुलने पर ये काम कबसे और कैसे करेंगे आप?


राज्‍य सरकार देगी वेतन और अन्‍य संसाधन
महाराष्‍ट्र सरकार के मेडिकल एजूकेशन एंड रिसर्च के डायरेक्‍टर और कोविड 19 के नोडल ऑफिसर डॉ. टीपी लहाणे ने पत्र में कहा है, 'हमने डॉक्‍टर संतोष कुमार से बात की है. उन्‍होंने महाराष्‍ट्र को पर्याप्‍त डॉक्‍टर और नर्स उपलब्‍ध कराने का आश्‍वासन दिया है. उनके आश्‍वासन के अनुसार हमे आग्रह करते हैं कि हमें 50 स्‍पेशलिस्‍ट डॉक्‍टर और 100 नर्स उपलब्‍ध कराए जाएं.'

पत्र में कहा गया है, 'राज्‍य सरकार एमबीबीएस डॉक्‍टर्स को 80 हजार रुपये प्रति माह औेर एमडी या एमएस स्‍पेशलिस्‍ट डॉक्‍टर को 2 लाख रुपये प्रति माह देगी. नर्स को 30 हजार रुपये प्रतिमाह वेतन दिया जाएगा. राज्‍य सरकार उनका रहने और खाने का भी इंतजाम करेगी. उन्‍हें मेडिकल उपकरण, दवाएं और अन्‍य संसाधन भी मुहैया कराई जाएगी.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज