शराब की कीमत में बढ़ोत्तरी, उद्धव सरकार ने लिया बड़ा फैसला

महाराष्‍ट्र में शराब महंगी हो गई है.

महाराष्‍ट्र में शराब महंगी हो गई है.

Maharashtra: महाराष्‍ट्र में शराब पर वैट 5 फीसदी बढ़ाया गया है. इससे राज्य को अतिरिक्त 1800 करोड़ का राजस्व मिल सकेगा.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र के बजट से शराब के शौकिनों को पंकज उदास की सुप्रसिद्ध ‘गजल मंहगी हुई शराब, थोड़ी-थोडी पिया करों.. की याद आ सकती है. कोरोना के चलते राज्य सरकार को राजस्व का भारी घाटा हुआ है. पर इसकी पूर्ति के लिए बजट में कर बढ़ाने से परहेज किया गया है लेकिन शराब के साथ यह दरियादिली नहीं दिखाई गई है. शराब पर राज्य उत्पादन शुल्क और मूल्य वर्धित कर यानी वैट में वृद्धि की गई है.

शराब पर वैट 5 फीसदी बढ़ाया गया है. इससे राज्य को अतिरिक्त 1800 करोड़ का राजस्व मिल सकेगा. दरअसल सरकार को लगता है कि कहीं ना कहीं शराब पर टैक्स बढ़ाकर पिछले 1 साल से कोरोना के कारण खाली हुए तिजोरी को भरा जा सकता है और दूसरी कामों में उसका इस्तेमाल किया जा सकता है. इसलिए सरकार ने शराबियों पर कोई दरियादिली नहीं दिखाई और 5 फ़ीसदी वैट बढ़ा कर सीधे राज्य सरकार की तिजोरी में इसके जरिए धन इकट्ठा करने की कोशिश की.

वित्त मंत्री अजित पवार ने इसपर कहा कि जिस तरीके से आर्थिक नुकसान पिछले 1 साल से राज्य सरकार को उठाना पड़ा है उससे पूरा बजट गड़बड़ा गया है और 10,000 करोड़ से ज्यादा के घाटे का बजट राज्य में पेश करना पड़ा है. इस घाटे की भरपाई कहीं न कहीं शराब से हो सकती है इसलिए राज्य सरकार ने शराब के ऊपर राज्य को सीधे प्राप्त होने वाले वैट का भार बढ़ा दिया है. उसका असर सीधा राज्य सरकार की तिजोरी भरने के काम में आ सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज