लाइव टीवी

महाराष्ट्र: देवेंद्र फडणवीस सहित BJP नेताओं की बैठक शुरू, तीन दिनों तक चलेगी चर्चा

News18Hindi
Updated: November 14, 2019, 9:13 PM IST
महाराष्ट्र: देवेंद्र फडणवीस सहित BJP नेताओं की बैठक शुरू, तीन दिनों तक चलेगी चर्चा
महाराष्ट्र चुनाव के बाद मुंबई में पहली बार आगे की रणनीति को लेकर सभी विधायकों की बैठक हो रही है. जिसमें समर्थन देने वाले सभी निर्दलीय विधायक भी मौजूद हैं.

महाराष्ट्र चुनाव (Maharashtra Election) के बाद मुंबई में पहली बार आगे की रणनीति को लेकर सभी बीजेपी विधायकों (MLA) की बैठक हो रही है. जिसमें समर्थन देने वाले सभी निर्दलीय विधायक भी मौजूद हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 14, 2019, 9:13 PM IST
  • Share this:
मुंबई. मुंबई (Mumbai) के दादर (Dadar) स्थित बीजेपी दफ्तर (BJP Office) में पार्टी विधायकों की बैठक शुरू हो चुकी है. जानकारी के मुताबिक यह बैठक गुरुवार से अगले तीन दिनों तक चलेगी. बैठक में देवेंद्र फडणवीस, प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल और अन्य वरिष्ठ नेता भी मौजूद हैं. बताया जा रहा है कि बैठक में संगठन मजबूत करने और आगे की रणनीति पर चर्चा होगी.

वहीं बैठक में किसानों को मदद पहुंचाने की चर्चा भी की जाएगी. इसके साथ ही देवेंद्र फडणवीस, महाराष्ट्र की मौजूदा राजनीतिक परिस्थिति पर भी बात करेंगे. बता दें कि चुनाव के बाद मुंबई में पहली बार आगे की रणनीति को लेकर सभी विधायकों की बैठक हो रही है. जिसमें समर्थन देने वाले सभी निर्दलीय विधायक भी मौजूद हैं.

शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की समन्वय समिति की पहली बैठक
इससे पहले शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की समन्वय समिति की पहली बैठक गुप्त स्थान पर सम्पन्न हुई. इस बैठक में शिवसेना की तरफ से सुभाष देसाई और एकनाथ शिंदे शामिल हुए. कांग्रेस की तरफ से मानिकराव ठाकरे और पृथ्वीराज चौहान दिखे तो एनसीपी की तरफ से नवाब मलिक, छगन भुजबल और जयंत पाटिल मीटिंग का हिस्सा बने. तीनों ही पार्टियों की पुरजोर कोशिश है कि नई सरकार बनाने के पहले कॉमन मिनिमम प्रोग्राम बनाया जाए, जिसके तहत सरकार चलाने में आसानी हो, साथ ही साथ विभागों के बंटवारे पर भी मंथन जारी है.

प्रो-मुस्लिम या प्रो-हिंदू के एजेंडे से बनाई दूरी
शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी द्वारा बनाए गए इस नए गठबंधन में कोशिश यह है कि जरूरी मुद्दों को शामिल किया जाए. जिसमें किसानों की समस्याओं से लेकर महाराष्ट्र के विकास तक को तरजीह दी जाए, जबकि मेनिफेस्टो में प्रो-मुस्लिम या प्रो-हिंदू के एजेंडे को इस कॉमन मिनिमम प्रोग्राम से दूर रखने की कोशिश की जा रही है. हालांकि सभी पार्टियों ने साफ कर दिया है कि इस कार्यक्रम को बनाने में कुछ समय लग सकता है और ऐसे में वह कोई भी कदम फूंक-फूंक कर रखेंगे.

ये भी पढ़ें:
Loading...

संजय राउत का पलटवार, कहा- जो बातें बंद कमरे में तय हुई वो अमित शाह ने PM को नहीं बताई

महाराष्ट्र का महासंकट: अस्पताल से डिस्चार्ज होते ही सक्रिय हुए संजय राउत, कहा- अब डरना मना है

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 8:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...