लाइव टीवी

महाराष्ट्र: शरद पवार का खुलासा- PM मोदी ने दिया था सुप्रिया सुले को मंत्री बनाने का ऑफर

भाषा
Updated: December 3, 2019, 7:42 AM IST
महाराष्ट्र: शरद पवार का खुलासा- PM मोदी ने दिया था सुप्रिया सुले को मंत्री बनाने का ऑफर
शरद पवार ने कहा कि उन्होंने पीएम मोदी का साथ मिलकर काम करने का ऑफर ठुकरा दिया था. (फाइल फोटो)

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने ऐसी खबरों को खारिज कर दिया कि नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने उन्हें देश का राष्ट्रपति बनाने का प्रस्ताव दिया था.

  • Share this:
मुंबई. एनसीपी (NCP) के प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने उन्हें साथ मिलकर काम करने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन उन्होंने उनके प्रस्ताव को ठुकरा दिया. एक मराठी टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में एनसीपी चीफ ने कई खुलासे किए. इस दौरान उन्होंने राष्ट्रपति बनने के प्रस्ताव से लेकर अजित पवार (Ajit Pawar) की बगावत पर खुलकर बात की.

मोदी ने देश का राष्ट्रपति बनाने का नहीं दिया था प्रस्ताव
शरद पवार ने ऐसी खबरों को खारिज कर दिया कि नरेंद्र मोदी सरकार ने उन्हें देश का राष्ट्रपति बनाने का प्रस्ताव दिया था. उन्होंने कहा, ‘लेकिन, नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली कैबिनेट में सुप्रिया सुले को मंत्री बनाने का एक प्रस्ताव जरूर मिला था.’

मेरे लिए साथ मिलकर काम करना संभव नहीं है

शरद पवार ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी ने मुझे साथ मिलकर काम करने का प्रस्ताव दिया था. मैंने उनसे कहा कि हमारे निजी संबंध बहुत अच्छे हैं और वे हमेशा रहेंगे, लेकिन मेरे लिए साथ मिलकर काम करना संभव नहीं है.’ गौरतलब है कि महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर चल रहे घटनाक्रम के बीच शरद पवार ने पिछले महीने नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी.

'अजित के कदम से परिवार खुश नहीं था'
एनसीपी चीफ ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि (पवार) परिवार में क्या किसी ने (अजित पवार से फडणवीस को समर्थन देने के उनके फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए) बात की थी, लेकिन परिवार के सभी का मानना था कि अजित ने गलत किया. उन्होंने कहा, 'बाद में मैंने उनसे कहा कि जो कुछ भी उन्होंने किया वह क्षम्य नहीं है. जो कोई भी ऐसा करेगा उसे परिणाम भुगतान होगा और आप अपवाद नहीं हैं.'कई मौकों पर राकांपा प्रमुख शरद पवार की तारीफ कर चुके हैं पीएम मोदी
उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों पीएम मोदी ने कहा था कि संसदीय नियमों का पालन कैसे किया जाता है इस बारे में सभी दलों को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) से सीखना चाहिए . पवार ने कहा कि 28 नवंबर को जब उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली तो उस समय अजित पवार को शपथ नहीं दिलाने का फैसला 'सोच समझकर' लिया गया.

ये भी पढ़ें - 'निर्भया के गुनहगारों को फांसी न मिलने से बढ़ा रेपिस्टों का मनोबल'

बच्चों को चप्पल सिलवाने भेजा: प्रिंसिपल सस्पेंड, महिला शिक्षामित्र हटाई गई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 2, 2019, 10:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर