कीचड़ कांड: कांग्रेस विधायक नितेश राणे ने थाने में किया सरेंडर, आज कोर्ट में होंगे पेश

पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे के बेटे विधायक नितेश नारायण राणे ने इंजीनियर पर कीचड़ अटैक करने के मामले में पुलिस थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया है.

News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 8:36 AM IST
News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 8:36 AM IST
महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक और पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे के बेटे नितेश नारायण राणे ने इंजीनियर पर कीचड़ अटैक करने के मामले में पुलिस थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया है. खुद नितेश राणे अपनी कार को ड्राइव करते हुए कांकावली पुलिस थाने पहुंचे और सरेंडर कर दिया. सरेंडर होने के बाद कांकावली पुलिस ने सबसे पहले हिरासत में लेकर पूरे मामले को लेकर नितेश राणे से एक घंटे तक पूछताछ की.

एक घंटे की पूछताछ के बाद नितेश राणे को और उनके समर्थकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया. वहीं गिरफ्तारी के बाद नितेश राणे और उनके समर्थकों को आज (5 जुलाई) कांकावली कोर्ट में पेश किया जाएगा. बता दें, नितेश राणे द्वारा सरकारी अधिकारी पर गाली गलौच और कीचड़ फेंकने के मामले में उनके और उनके समर्थकों के खिलाफ कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था.

'हाइवे पर डंडा लेकर बैठूंगा और काम की निगरानी करूंगा'
नितेश राणे ने कहा, 'हमने जो रास्ता मांगा वो दिया नहीं. कांकावली के लोगों ने अपनी 50 साल पुरानी दुकानें रास्ते से हटाई हैं, ताकि यहां हाईवे बन सके. उन्होंने त्याग किया है, ताकि हाईवे बने और लोगों का एक्सीडेंट न हों, विकास के लिए लोगों ने त्याग किया है.' उन्होंने कहा कि यहां अधिकारियों को लगता है कि सब बिके हुए हैं. राणे को खरीदना इनकी औकात में नहीं है, ये भी वो जान लें. तुम कांकावली निवासियों को उनका हक दो और विकास करो, तब जाकर हमें संतुष्टि मिलेगी. कल से मैं रोज सुबह 7 बजे से हाथ में डंडा लेकर इन अधिकारियों के साथ हाइवे पर बैठूंगा और काम की निगरानी करूंगा.

उन्होंने कहा, 'इन अधिकारियों की जो मस्ती चढ़ी है, अधिकारियों को कैसे सबक सिखाना है, ये हमें पता है. हम सिर्फ दिखावा नहीं करते. आने वाली जुलाई में भारी बारिश होगी तो यहां मुश्किलें पैदा हो जाएंगी. इसलिए मैं यहां डंडा लेकर बैठूंगा और सब काम पूरा करवाकर लूंगा. प्रशासन भी अपना काम पूरा करे.'

'बेटे को मांगनी पड़ेगी माफी'
इससे पहले नितेश राणे के पिता पूर्व सीएम नारायण राणे ने मीडिया से बात करते हुए माफी मांगी. उन्होंने कहा कि हाईवे मुद्दे को लेकर प्रदर्शन करना ठीक है. लेकिन उनके समर्थकों की तरफ से इंजीनियर के साथ किया गया व्यवहार गलत है. मैं इसका समर्थन नहीं करता हूं. क्या नीतीश राणे इसकी मांफी मांगेंगे? इसका जवाब देते हुए पूर्व सीएम नारायण राणे ने कहा कि क्यों नहीं, मैं उससे माफी मांगने के लिए बोलूंगा? वह मेरा बेटा है. अगर पिता बिना अपनी गलती के माफी मांग सकता है तो फिर बेटे को भी माफी मांगनी पड़ेगी.
Loading...

क्या है मामला
गुरुवार को नितेश राणे के नेतृत्व में स्वाभिमान संगठन के कार्यकर्ताओं ने हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के इंजीनियर प्रकाश शेडकर से मुलाकात की. कांग्रेस विधायक नितेश राणे सड़क निर्माण कार्य का जायजा लेने गए थे. इसी दौरान उन्होंने गुस्से में आकर इंजीनियर पर कीचड़ फिंकवा दिया. इसके बाद विधायक और उनके समर्थकों ने इंजीनियर को नदी पर बने पुल से बांध दिया और उनसे बदसलूकी की. मामला सिंधु दुर्ग जिले के कनकवली की है. यहां लगातार चार दिन से बारिश हो रही है. इससे मुंबई-गोवा एक्सप्रेस वे पर बड़े-बड़े गड्ढे बन गए हैं. इससे लोगों में नाराजगी है. नितेश राणे ने एक्सप्रेस वे काम में देरी और गड्ढों के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए इंजीनियर को कीचड़ से नहला दिया.

ये भी पढ़ें-

कीचड़ कांड: पिता ने मांगी माफी और MLA बेटा बोला- परवाह नहीं

जानिए कौन है इंजीनियर पर कीचड़ फेंकने वाले नितेश नारायण राणे
First published: July 5, 2019, 5:42 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...