Mumbai Building Collapse: 100 साल पुरानी थी बिल्डिंग, 2012 में ही दिया गया था ढहाने का आदेश

महाराष्ट्र हाउसिंग व एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (MHADA) के चेयरमैन उदय सामंत के मुताबिक, इस हादसे में 12 लोगों की मौत हुई है. घायलों को जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 2:54 PM IST
Mumbai Building Collapse: 100 साल पुरानी थी बिल्डिंग, 2012 में ही दिया गया था ढहाने का आदेश
ये बिल्डिंग करीब 100 साल पुरानी थी. इसका आधे से ज्यादा हिस्सा जर्जर हो चुका था.
News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 2:54 PM IST
मुंबई के डोंगरी इलाके में मंगलवार को बड़ा हादसा हुआ. लगातार बारिश के चलते एक 4 मंजिला बिल्डिंग ढह गई. इसके मलबे में कम से कम 50 लोगों के दबे होने की आशंका है. अब तक रेस्क्यू टीम ने पांच लोगों को जिंदा निकाल लिया है. इसमें एक 2 साल का बच्चा भी शामिल है. महाराष्ट्र हाउसिंग व एरिया डेवलपमेंट अथॉरिटी (MHADA) के चेयरमैन उदय सामंत के मुताबिक, ये बिल्डिंग करीब 100 साल पुरानी थी. इसका आधे से ज्यादा हिस्सा जर्जर हो चुका था. बृहन्मुंबई महानगर पालिका (BMC) ने सात साल पहले 2012 में ही इस बिल्डिंग को लेकर चेतावनी दे दी थी. लेकिन, बिल्डिंग को गिराने को लेकर कोई कार्रवाई नहीं की गई.

बड़ा हादसा: मुंबई में 4 मंजिला इमारत गिरी, 12 लोगों की मौत, जिंदा निकाला गया मासूम

उदय सामंत ने News18 को बताया, मेरी जानकारी के मुताबिक इस हादसे में 12 लोगों की मौत हुई है. घायलों को जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इस हादसे के जिम्मेदार लोगों पर सख्त कार्रवाई होगी.

BSB डेवलपर्स की है बिल्डिंग

जानकारी के मुताबिक, ये बिल्डिंग BSB डेवलपर्स की है. इस बिल्डिंग को 2012 में NOC दी गई थी. MHADA के मुताबिक, ये बिल्डिंग उस लिस्ट का हिस्सा नहीं है, जिसमें खतरनाक बिल्डिंगों को शामिल किया गया है. ऐसे में अब इसपर भी सवाल खड़े हो रहे हैं, जब बिल्डिंग की हालात इतनी जर्जर है तो इसे खतरनाक बिल्डिंगों की लिस्ट में क्यों शामिल नहीं किया गया है.

संकरी गली की वजह से रेस्क्यू में दिक्कत
बता दें कि डोंगरी इलाके में केसरबाई नाम की यह चार मंजिला इमारत संकरी गली में है. ऐसे में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने में काफी दिक्कत आ रही है. इसी बीच स्थानीय लोग वहां पर पहुंची पुलिस और राहत बचाव टीम की मदद कर रही है. जब वहां पर मलबे में दबे लोगों को निकालने की कोशिश चल ही रही थी, तभी एक छोटे से बच्चे को वहां मलबे से बाहर निकाला गया. बच्चे को इलाज के लिए जेजे अस्पताल पहुंचाया गया है.
Loading...

सीएम बोले- कराएंगे जांच
हादसे के बाद महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस भी मौके पर पहुंचे. उन्होंने कहा, 'ये 100 साल पुरानी बिल्डिंग है, वहां के निवासियों को इस बिल्डिंग के रिडेवलेप होने की परमिशन मिली थी. हालांकि, अभी हमारा फोकस लोगों को बचाने पर है. जब सारी बातें सामने आएंगी तो इसकी जांच कराई जाएगी.'

सामने आईं मुंबई हादसे की दिल दहला देने वाली तस्वीरें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 16, 2019, 2:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...