Maharastra Lok Sabha Election Result 2019: क्या बीजेपी-शिवसेना को रोक पाएगा कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन

48 लोकसभा सीटों वाले महाराष्‍ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठजोड़ को बड़ी सफलता मिली थी. ऐसे में सवाल उठता है कि क्‍या इस बार के लोकसभा चुनावों में भी बीजेपी-शिवसेना 5 साल पहले की सफलता को दोहराने में सफल रहेगी?

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 23, 2019, 9:13 AM IST
Maharastra Lok Sabha Election Result 2019: क्या बीजेपी-शिवसेना को रोक पाएगा कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन
उद्धव ठाकरे के साथ अमित शाह (File Photo)
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 23, 2019, 9:13 AM IST
मनीष

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मतगणना का काम शुरू हो गया है. लोकसभा चुनावों में आमतौर पर उत्‍तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल और महाराष्‍ट्र जैसे बड़े राज्‍यों पर सबकी निगाहें रहती हैं. वर्ष 2014 के लोकसभा चुनावों में बीजेपी की अगुआई वाले एनडीए को इन राज्‍यों में जबरदस्त सफलता मिली थी.

48 लोकसभा सीटों वाले महाराष्‍ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठजोड़ को बड़ी सफलता मिली थी. ऐसे में सवाल उठता है कि क्‍या इस बार के लोकसभा चुनावों में भी बीजेपी-शिवसेना 5 साल पहले की सफलता को दोहराने में सफल रहेगी या कांग्रेस और राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का संयुक्‍त मोर्चा उन्‍हें नियंत्रिति में सफल रहेगा? आपको बता दें कि मुंबई में लोकसभा की 6 सीटें हैं. वर्ष 2014 के लोकसभा चुनावों में बीजेपी-शिवसेना ने सभी 6 सीटों पर कब्‍जा करने में सफल रही थी.

मुंबई की 6 हाईप्रोफाइल सीटों पर गोपाल शेट्टी, संजय निरुपम, मिलिंद देवड़ा, अरविंद सावंत, उर्मिला मातोंडकर, प्रिया दत्‍त और पूनम महाजन जैसे दिग्‍गजों की साख दांव पर है. मुंबई की सभी 6 सीटों के लिए 29 अप्रैल को वोट डाले गए थे. बीजेपी-शिवसेना से सीटें झटकने के लिए इस बार कांग्रेस ने फिल्‍म अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर को चुनाव मैदान में उतारा है. कांग्रेस-राकांपा गठजोड़ को उम्‍मीद है कि इस बार कुछ सीटों को बीजेपी और शिवसेना से झटका जा सके.

कांग्रेस-राकांपा गठजोड़ को उर्मिला मातोंडकर के साथ ही मिलिंद देवड़ा और प्रिया दत्‍त से भी काफी उम्‍मीदें हैं. दिलचस्‍प है कि इस बार के लोकसभा चुनाव में राज ठाकरे के नेतृत्‍व वाली महाराष्‍ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) ने चुनाव मैदान में उतरने के बजाय कांग्रेस-राकांपा का समर्थन करने का फैसला किया है. ऐसे में मनसे का वोट कांग्रेस-राकांपा गठजोड़ के प्रत्‍याशियों को ट्रांसफर हो सकता है. लिहाजा कांग्रेस और एनसीपी प्रत्‍याशी को इस बार के चुनाव में फायदा मिलने की संभावना है. बता दें कि राज ठाकरे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के चचेरे भाई थी है.

दूसरी तरफ, बीजेपी और शिवसेना गठजोड़ के प्रत्‍याशियों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता पर पूरा भरोसा है. पिछले लोकसभा चुनाव में मुंबई की सभी सीटों जीतने वाली बीजेपी और शिवसेना ने वर्ष 2019 का चुनाव राष्‍ट्रवाद, सुरक्षा और विकास के नाम पर लड़ा है. ऐसे में यह देखना दिलचस्‍प होगा कि बीजेपी और शिवसेना को इस बार मुंबई में किस हद तक सफलता मिलती है.

ये भी पढ़ें:
Maharashtra Election Result 2019 LIVE: शिवसेना के मुखपत्र सामना में विपक्ष को पागल लिखा गया

अपने WhatsApp पर पाएं लोकसभा चुनाव के लाइव अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...