तूफान 'वायु' को लेकर मुंबई पुलिस ने जारी किया अलर्ट

तूफान वायु को लेकर मुंबई पुलिस ने लोगों से अपील की है कि दोपहर के बाद वे समुद्र के आसपास न जाएं. इसके साथ ही पेड़ या कमजोर इमारतों के आस-पास भी खड़े होने की मनाही की गई है.

News18Hindi
Updated: June 12, 2019, 11:21 AM IST
तूफान 'वायु' को लेकर मुंबई पुलिस ने जारी किया अलर्ट
मुंबई पुलिस ने तूफान वायु को लेकर अलर्ट जारी किया है.
News18Hindi
Updated: June 12, 2019, 11:21 AM IST
अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान वायु का खतरा महाराष्‍ट्र पर भी मंडरा रहा है. मुंबई पुलिस ने तूफान वायु को लेकर अलर्ट जारी किया है. पुलिस ने लोगों से अपील की है कि दोपहर के बाद वे समुद्र के आसपास न जाएं. इसके साथ ही पेड़ या कमजोर इमारतों के आस-पास भी खड़े होने की मनाही की गई है. पुलिस का अनुमान है कि जल्‍द ही काफी तेज हवाएं चल सकती हैं. ऐसे में लोगों को सावधानी बरतने की बेहद जरूरत है.

कई रिपोर्ट्स में ये दावा किया जा रहा था कि चक्रवाती तूफान वायु का असर मुंबई पर भी पड़ेगा. हालांकि मौसम विभाग ने इस बात को खारिज कर दिया है. विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, वायु महाराष्ट्र से उत्तर में गुजरात की ओर बढ़ रहा है.



गुजरात में तूफान वायु को लेकर तैयारियां की गईं
गुजरात में 13 जून को आने वाले वायु तूफान के मद्देनज़र सरकार की ओर से तैयारियां की गई हैं. गुजरात समेत दमन और द्वीप में गृह मंत्रालय की ओर से तूफान का हाई अलर्ट जारी किया गया है. अरब सागर में दबाव की स्थिति अगले कुछ घंटों में चक्रवाती की शक्ल ले सकती है जिसके चलते मौसम विभाग ने 55 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे से तेज हवाओं के साथ भारी से भारी बारिश होने की चेतावनी दी है.

बंदरगाहों पर की गई चेतावनी जारी
मौसम विभाग का अनुमान है कि यह चक्रवाती तूफान 13 जून की सुबह पोरबंदर एवं महुआ से होता हुआ वेरावल और दीव के बीच समुद्र पट को पार करेगा. इसको देखते हुए सभी बंदरगाहों पर वॉर्निंग जारी की गई है. मछुआरों को समुद्र में न जाने का आदेश दिया गया है. प्रशासन को भी अलर्ट पर रखा गया है. सेना और एनडीआरएफ की टीमों की तैनाती की गई है.

35000 लोगों को किया गया शिफ्ट
Loading...

तूफान को देखते हुए पोरबंदर जिले के 74 गांव के 35000 हजार लोगों को गांव से बाहर सुरक्षित स्थान पर भेज दिया गया है. वहीं जिले के सभी स्कूल -कॉलेज में तीन दिन तक छुट्टी रहेगी. पोरबंदर में NDRF की 3 टीम तैनात की जाएंगी. बुलेटिन के अनुसार चक्रवात के दौरान कच्छ, देवभूमि द्वारका, पोरबंदर, जूनागढ़, दीव, गीर सोमनाथ, अमरेली और भावनगर जिलों के तटीय क्षेत्र में एक से डेढ़ मीटर ऊंची समुद्री लहरें उठने की आशंका है.

ये भी पढ़ें

चक्रवाती तूफान 'वायु' का मुंबई पर नहीं होगा असर, फिर भी शहर में होगी भारी बारिश

अब गुजरात पर तूफान ‘वायु’ का खतरा, कई जिलों में स्‍कूल बंद, अलर्ट पर सेना
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...