होम /न्यूज /महाराष्ट्र /मुंबई: नारकोटिक्स के खिलाफ NCB, DRI व कस्टम की जबरदस्त कार्रवाई, 7 दिन में 1800 करोड़ का ड्रग्स जब्त

मुंबई: नारकोटिक्स के खिलाफ NCB, DRI व कस्टम की जबरदस्त कार्रवाई, 7 दिन में 1800 करोड़ का ड्रग्स जब्त

मुंबई में जांच एजेंसियों ने 1 सप्ताह के अंदर 1800 करोड़ रुपए से अधिक का ड्रग्स जब्त किया है. (File Photo)

मुंबई में जांच एजेंसियों ने 1 सप्ताह के अंदर 1800 करोड़ रुपए से अधिक का ड्रग्स जब्त किया है. (File Photo)

एक हफ्ते के अंदर अलग-अलग जांच एजेंसियों ने मुंबई में लगभग 1800 करोड़ रुपए के ड्रग्स जब्त किए हैं. अकेले DRI ने 1476 करो ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

एक हफ्ते के अंदर मुंबई में 1800 करोड़ का नारकोटिक्स जब्त
अकेले DRI ने 1476 करोड़ रुपए का MDMA बरामद किया है
बच्चों के चॉकलेट......टॉफी के रैपर में ड्रग्स पेडलिंग की कोशिश

मुंबई: एक हफ्ते के अंदर अलग-अलग जांच एजेंसियों ने मुंबई में लगभग 1800 करोड़ रुपए के ड्रग्स जब्त किए हैं. अकेले DRI (Directorate of Revenue Intelligence) ने 1476 करोड़ के ड्रग्स जब्त किए हैं. NCB (Narcotics Control Bureau) और कस्टम ने भी अलग-अलग ऑपरेशंस में करोड़ो के ड्रग्स जब्त किए हैं. बीते दिनों में ड्रग्स तस्करों ने तस्करी के लिए प्लानिंग तो खूब की. कभी संतरों के डिब्बों में, ट्रैवल ट्रॉली में तो कभी महिलाओं के सैंडल में ड्रग्स की तस्करी. चॉकलेट और टॉफी के​ डिब्बों में भी ड्रग्स छिपाकर तस्करी करने की कोशिश हुई, लेकिन पेडलर्स जांच एजेंसियों की नजर से बच नहीं पाए.

DRI ने मुंबई के पास वाशी इलाके में एक संतरे के ट्रक में 1476 करोड़ के MDMA और हेरोईन जब्त किए. ये ड्रग्स मुंबई में सप्लाई होने थे. मुंबई एयरपोर्ट पर भी 7 दिनों ने गमुंबई कस्टम ने करोड़ों के ड्रग्स जब्त किए हैं. तस्करों ने बच्चों के चॉकलेट और टॉफी रैपर में ड्रग्स पेडल करने की कोशिश की लेकिन मुंबई कस्टम की नजर से बच नहीं सके. एक महिला के सैंडल से करोड़ो रुपए के ड्रग्स जब्त किए गए. NCB की मुंबई ब्रांच ने एक बड़े ऑपरेशन के तहत एक विदेशी महिला के पास से ब्लैक कोकेन जब्त किया. महिला अपनी ट्रॉली बैग में ब्लैक कोकेन छिपाकर ला रही थी. यह एक ऐसा ड्रग्स है, जिसे पकड़ना काफी मुश्किल होता है.

मुंबई एनसीबी के जोनल डायरेक्टर अमित गवाते ने न्यूज18 से बातचीत में कहा, ‘हमने 3 किलों से ज्यादा ब्लैक कोकेन जब्त किया है, जिसकी कीमत 3 करोड़ रुपए से ज्यादा है. यह भारत का पहला मामला है, जहां ब्लैक कोकेन जब्त हुआ है. ब्लैक कोकेन को पकड़ना काफी मुश्किल होता है, इसकी स्मेल स्निफर डॉग भी नहीं पकड़ पाते हैं. क्योंकि नॉर्मल कोकेन की स्मेल आती है, पर ब्लैक कोकेन की स्मेल बिलकुल भी नहीं आती. इसलिए इसे पकड़ना काफी मुश्किल होता हेै. पिन-पॉइंट इंफों थी हमारी पास. यह ब्लैक कोकेन मुंबई से गोवा जानेवाला था. हमारा ऑपरेशन अब भी चल रहा है.’

अब बड़ा सवाल यह है कि अचानक मुंबई में ड्रग्स की तस्करी के मामले क्यूं बढ़े हैं? सूत्रों के मुताबिक 15 दिसंबर से 15 जनवरी तक ड्रग्स की काफी तस्करी होती है पूरी दुनिया में. इस समयावधि के दौरान भारत के साथ-साथ दुनिया भर की जांच एजेंसियां काफी सतर्क रहती हैं. इसलिए ड्रग्स तस्करों ने इस बार पहले से ही ड्रग्स की तस्करी करनी शुरू कर दी है. जिससे 25 दिसंबर और नए साल के मौक पर ड्रग्स सबके पास पहुंच जाए. ड्रग्स पेडलर्स के इस प्लान की जानकारी जांच एजेंसियों को लग गई थी. पिन पॉइंट इंफो पर सभी एजेंसियों ने यह पूरा ऑपरेशन किया.

Tags: Mumbai Drugs, Mumbai News, Narcotics Department

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें