Home /News /maharashtra /

Maharashtra Government Formation: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद NCP बोली- लोकतंत्र जिंदा है

Maharashtra Government Formation: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद NCP बोली- लोकतंत्र जिंदा है

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद NCP बोली- लोकतंत्र जिंदा है. (फाइल फोटो)

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद NCP बोली- लोकतंत्र जिंदा है. (फाइल फोटो)

एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने कहा कि फ्लोर टेस्ट अगर सुबह 11 बजे से शुरू होता है तो 11.30 बजे तक पूरा हो जाएगा.

    मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) में फ्लोर टेस्ट (Floor test)कराने के मामले में सुप्रीप कोर्ट का फैसला आने पर एनसीपी ने कहा कि अभी लोकतंत्र जिंदा है. हमें सुप्रीम कोर्ट और लोकतंत्र पर भरोसा है. एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने कहा कि फ्लोर टेस्ट अगर सुबह 11 बजे से शुरू होता है तो 11.30 बजे तक पूरा हो जाएगा. एनसीपी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक ने ट्वीट किया, सत्यमेव जयते, बीजेपी का खेल खत्म.



    एनसीपी के मुखिया शरद पवार ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर खुशी जताई है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'लोकतांत्रिक मूल्यों और संवैधानिक सिद्धांतों को बनाए रखने के लिए मैं सुप्रीम कोर्ट के प्रति प्रति आभारी हूं.यह हार्दिक है कि महाराष्ट्र का फैसला संविधान दिवस पर आया है, भारतरत्न डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर को श्रद्धांजलि !'



    वहीं शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर खुशी जताई है. उन्होंने ट्वीट किया, ' सत्य पेशान हो सकता है, लेकिन हार नहीं सकता. जय हिंद....!



    सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में बीजेपी के सरकार गठन के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई करके हुए राज्पाल भगत सिंह कोश्यारी को 27 नवंबर को फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया है. इसके लिए कोर्ट ने कई निर्देश भी जारी किए हैं. कोर्ट ने कहा है कि वोटिंग ओपन बैलेट से होगी. मतलब कि मतदान गुप्त तरीके से नहीं होगा. शाम पांच बजे तक सभी विधायकों को शपथ दिलानी होगी. सुप्रीम कोर्ट ने कि इस पूरी प्रक्रिया का लाइव टेलीकास्ट किया जाएगा.

    जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना की पीठ ने फैसला सुनाते हुए कहा कि देश में लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा होनी चाहिए. कोर्ट ने कहा कि अभी तक विधायकों ने शपथ नहीं ली है. इसलिए सबसे पहले सभी विधायकों को शपथ दिलाई जाए.

    बता दें कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के फैसले के खिलाफ शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी. इसमें सरकार को बर्खास्त कर 24 घंटे के अंदर फ्लोर टेस्ट कराने की मांग की गई थी. कोर्ट पिछले दो दिनों से इस मामले में सुनवाई कर रहा था. मंगलवार को इस मामले में फैसला सुनाया है.

    Tags: Maharashtra, Maharashtra asembly election 2019, NCP, Shiv sena, Supreme Court

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर