लाइव टीवी

शरद पवार बोले- अटल थे 'Gentleman' और मोदी में है निर्णय लेने की क्षमता

News18Hindi
Updated: October 17, 2019, 6:12 PM IST
शरद पवार बोले- अटल थे 'Gentleman' और मोदी में है निर्णय लेने की क्षमता
अटल बिहारी वाजपेयी ने PM पद पर रहने के दौरान शरद पवार को आपदा प्रबंधन प्राधिकरण का उपाध्यक्ष नियुक्त किया था.

शरद पवार (Sharad Pawar) ने एक इंटरव्यू में कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) एक भद्र पुरुष थे. जबकि किसी कार्यक्रम के क्रियान्वयन के मामले में नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) एक प्रभावी व्यक्ति हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2019, 6:12 PM IST
  • Share this:
मुंबई. राकांपा (NCP) प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Former PM Atal Bihari Vajpayee) आमतौर पर यह ध्यान रखते थे कि उनके फैसले से किसी को कोई नाराजगी नहीं हो, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) अपने किसी फैसले के क्रियान्वयन के मामले में प्रभावी और कठोर हैं.

पवार ने कहा कि भाजपा के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी के प्रति लोगों के बीच कहीं अधिक सम्मान था. बता दें कि वाजपेयी ने प्रधानमंत्री पद पर रहने के दौरान पवार को आपदा प्रबंधन प्राधिकरण का उपाध्यक्ष नियुक्त किया था.

इंटरव्यू में बोले पवार-
पवार ने एक इंटरव्यू में कहा कि वाजपेयी एक भद्र पुरुष थे. जबकि किसी कार्यक्रम के क्रियान्वयन के मामले में मोदी एक प्रभावी व्यक्ति हैं. कोई फैसला ले लेने के बाद उसे कठोरता से लागू करने की क्षमता मोदी के पास है. प्रधानमंत्री पद पर मोदी के प्रथम कार्यकाल के दौरान 2017 में पद्म विभूषण पुरस्कार पाने वाले पवार ने वाजपेयी और मोदी की कार्यशैली में अंतर का भी जिक्र किया.

साधा फडणवीस पर निशाना
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख ने कहा कि वाजपेयी साहेब कोई कदम उठाने से पहले इस बात का ध्यान रखते थे कि कोई नाराजगी नहीं हो. लोगों के मन में उनके लिये कहीं अधिक सम्मान था. लेकिन जहां तक परिणामोन्मुखी कार्य की बात है, शायद मोदी उनसे अलग हैं. पवार ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने राज्य में किसानों और उद्योगों की समस्याओं का हल करने के लिये कोई पहल नहीं की.

राज्य में समूचा किसान समुदाय बेचैन
Loading...

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पवार ने कहा कि फडणवीस नतीजे देने वाले और प्रभावी मुख्यमंत्री नहीं माने जाते हैं. पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री ने कृषि संकट के लिये भाजपा नीत शासन को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि राज्य में समूचा किसान समुदाय बेचैन, हताश और गुस्से में हैं. किसान बड़ी संख्या में आत्महत्या कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि राज्य में बड़े पैमाने पर कल-कारखााने बंद हो रहे हैं, जिससे लोगों की नौकरियां जा रही हैं.
(एजेंसी इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें-

सीएम योगी का दीवाली तोहफा, देश में बनने वाली तोप पर यूपी के इस जिले का लिखा जाएगा नाम

पिता केजरीवाल को दोबारा सीएम बनाने का जिम्मा लेने वाली हर्षिता के बारे में क्या ये बात जानते हैं आप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 6:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...