लाइव टीवी

वीर सावरकर पर अपनी विवादास्पद पुस्तिका वापस ले कांग्रेस सेवा दल: राकांपा प्रवक्ता

भाषा
Updated: January 4, 2020, 3:59 PM IST
वीर सावरकर पर अपनी विवादास्पद पुस्तिका वापस ले कांग्रेस सेवा दल: राकांपा प्रवक्ता
राकांपा के मुख्य प्रवक्ता नवाब मलिक ने मांग की है कि कांग्रेस का सेवा दल अपनी विवादास्पद पुस्तिका को वापस ले. (फाइल फोटो)

राकांपा (NCP) के मुख्य प्रवक्ता नवाब मलिक (Nawab Malik) ने कहा कि विनायक दामोदर सावरकर (Vinayak Damodar Savarkar) जीवित नहीं हैं, इसलिए उनके बारे में आपत्तिजनक दावा करना गलत है, इसलिए कांग्रेस का सेवा दल अपनी विवादास्पद पुस्तिका को वापस ले.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) की उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) सरकार में कांग्रेस के साथ सहयोगी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) ने शनिवार को कांग्रेस के सेवा दल की उस विवादास्पद पुस्तिका को वापस लिए जाने की मांग की है, जिसमें दावा किया गया है कि हिंदुत्व के विचारक विनायक दामोदर सावरकर (Vinayak Damodar Savarkar) और महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे (Nathuram Godse) के बारे में आपत्तिजनक बातें लिखी हुई हैं.

मध्य प्रदेश में कांग्रेस के एक शिविर में वितरित की गई थी यह पुस्तिका
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के मुख्य प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि चूंकि विनायक दामोदर सावरकर जीवित नहीं हैं, इसलिए इस तरह का दावा करना गलत है. ‘वीर सावरकर, कितने ‘वीर’?’ शीर्षक वाली हिंदी पुस्तिका हाल ही में मध्य प्रदेश में कांग्रेस के संगठन सेवा दल के एक शिविर में वितरित की गई थी. पुस्तिका में सावरकर की देशभक्ति और वीरता पर भी सवाल उठाया गया है. इसमें यह भी दावा किया गया कि अंडमान की सेलुलर जेल से रिहा होने के बाद सावरकर को अंग्रेजों से पैसा मिला था.

शिवसेना भी पुस्तिका को लेकर कांग्रेस पर निशाना साध चुकी है

नवाब मलिक ने फोन पर पीटीआई को बताया कि, ‘पुस्तिका को वापस ले लिया जाना चाहिए. आपके किसी व्यक्ति के साथ वैचारिक मतभेद हो सकते हैं. लेकिन जो व्यक्ति जीवित नहीं हैं, उसके खिलाफ ऐसी व्यक्तिगत टिप्पणी करना सही नहीं है.’ शिवसेना ने भी पुस्तिका को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा था.

सावरकर एक महान व्यक्ति थे और महान व्यक्ति बने रहेंगे
शिवसेना से राज्यसभा सांसद संजय राउत ने भी शुक्रवार को कहा था कि, ‘विनायक दामोदर सावरकर एक महान व्यक्ति थे और महान व्यक्ति बने रहेंगे. एक तबका उनके खिलाफ बातें करता रहता है. यह उनके दिमाग में भरी गंदगी दिखाता है.’पुस्तिका पर प्रतिबंध लगाई जाए: देवेंद्र फडणवीस
महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने पुस्तिका पर प्रतिबंध लगाने की मांग करते हुए आरोप लगाया था कि कांग्रेस ने इसे प्रसारित करके अपनी भ्रष्ट छवि को प्रदर्शित किया है.

ये भी पढ़ें - 

बोतल में नहीं दिया तेल तो कर्मी पर पेट्रोल डालकर पंप में ब्लास्ट करने की कोशिश

उद्धव ठाकरे सरकार में घमासान! राज्यमंत्री अब्दुल सत्तार के इस्तीफे की खबर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 4, 2020, 3:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर