लाइव टीवी
Elec-widget

अजित पवार के इस्तीफे की अटकलें, प्रफुल्ल पटेल बोले- वे हमारी बात समझ रहे हैं, जल्द लेंगे फैसला

News18Hindi
Updated: November 26, 2019, 12:11 PM IST
अजित पवार के इस्तीफे की अटकलें, प्रफुल्ल पटेल बोले- वे हमारी बात समझ रहे हैं, जल्द लेंगे फैसला
प्रफुल्ल पटेल ने बताया कि अजित पवार हमारी बातें समझ रहे हैं.

एनसीपी से बागी होकर बीजेपी को समर्थन करने वाले अजित पवार (Ajit Pawar) को मनाने की कोशिशें लगातार जारी हैं. पार्टी चाह रही है कि बुधवार को होने वाले फ्लोर टेस्ट (Floor Test) से पहले उनकी हर हाल में वापसी हो जाए. इसी को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल (Praful Patel) ने उनसे मुलाकात की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2019, 12:11 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले के बाद राज्य में पहले से चल रहे सियासी सरगर्मियों में और तेजी आ गई है. एनसीपी से बागी होकर बीजेपी को समर्थन करने वाले अजित पवार (Ajit Pawar) को मनाने की कोशिशें लगातार जारी हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पार्टी चाह रही है कि बुधवार को होने वाले फ्लोर टेस्ट (Floor Test) से पहले उनकी हर हाल में वापसी हो जाए. इसी को लेकर एनसीपी के वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल (Praful Patel) ने उनसे मुलाकात की है. मुलाकात के बाद प्रफुल्ल पटेल ने बताया कि वे हमारी बातों को समझ रहे हैं और उन्होंने कहा है कि वे जल्द फैसला लेंगे. इसके बाद अटकलें लगाई जा रही हैं कि वे उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं.

बीजेपी के साथ जाने के बाद से ही एनसीपी उन्हें मनाने की कोशिश कर रही है. पार्टी के प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा था कि अगर अजित गलति मान लें तो अच्छा होगा. वहीं अजित ने ट्वीट कर कहा था कि अभी भी वे एनसीपी में हैं और उनके नेता शरद पवार साहेब हैं. बीजेपी-एनसीपी गठबंधन की सरकार पूरे पांच साल चलेगी, लेकिन उनके इस ट्वीट के बाद शरद पवार ने साफ कर दिया कि एनसीपी बीजेपी के साथ नहीं है. अजित जो कर रहे हैं, वो उनका निजी फैसला है.

शनिवार को हुआ था सरकार गठन
बीते शनिवार को महाराष्ट्र में एनसीपी के बागी अजित पवार के समर्थन से बीजेपी ने सरकार गठन कर लिया था. अप्रत्याशित घटनाक्रम में सुबह-सुबह ही राज्यपाल ने देवेंद्र फडणवीस को सीएम और अजित पवार को डिप्टी सीएम पद की शपथ दिलाई थी. राज्यपाल के इसी फैसले के खिलाफ शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. दो दिन की सुनवाई के बाद शीर्ष अदालत ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था.

दो दिन की सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट का फैसला
जस्टिस एमवी रमन्ना, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना की पीठ ने अपना फैसला देते हुए कहा कि महाराष्ट्र की फडणवीस सरकार को 24 घंटे के अंदर फ्लोर टेस्ट का आदेश दिया है. कोर्ट ने कहा कि फडणवीस सरकार को 27 नवंबर को ओपन बैलेट से फ्लोर टेस्ट देना होगा. इसकी वीडियोग्राफी भी होगी. फ्लोर टेस्ट प्रोटेम स्पीकर की देखरेख में ही होगा. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि 27 नवंबर को शाम 5 बजे तक विधायकों का शपथ ग्रहण कराना होगा, फिर उसके तुरंत बाद फ्लोर टेस्ट कराना होगा.

बीजेपी का दावा हमारे पास पूर्ण बहुमत
Loading...

इसी बीच बीजेपी ने दावा किया है कि हमारे पास बहुमत के लिए पर्याप्त नंबर हैं और कल शक्ति परीक्षण के दौरान इसे पूरी दुनिया भी देखेगी. बीजेपी से जुड़े एक सूत्र ने दावा किया कि सुप्रीम कोर्ट ने सरकार बनाने के लिए राज्यपाल द्वारा हमें आमंत्रित किए जाने के फैसले को सही ठहराया है. विधानसभा की पटल पर ही बहुमत का परीक्षण होगा. सुप्रीम कोर्ट ने आज एक बार फिर न्यायपालिका, कार्यपालिका और विधायिका की सीमाओं को स्पष्ट कर दिया है.

ये भी पढ़ें-

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद BJP का दावा- हमारे पास नंबर, कल फ्लोर टेस्ट में पूरी दुनिया देखेगी

SC के फैसले के बाद महाराष्ट्र में बढ़ी हलचल, NCP MLA से मिलने पहुंचे संजय राउत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 26, 2019, 12:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com