रत्नागिरी डैम हादसा: अब केकड़ों पर घमासान, केस दर्ज कराने थाने पहुंची NCP

महाराष्ट्र सरकार में शामिल नए जल संसाधन मंत्री तानाजी सावंत ने एक अजीब बयान देते हुए कहा कि तिवारे डैम टूटने के पीछे की वजह केकड़े हैं.

News18Hindi
Updated: July 6, 2019, 10:54 AM IST
News18Hindi
Updated: July 6, 2019, 10:54 AM IST
महाराष्ट्र के कोल्हापुर में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. दरअसल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के युवा कार्यकर्ता शाहुपुरी पुलिस स्टेशन पहुंचे और केकड़ों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 (हत्या) के तहत एफआईआर दर्ज करने की मांग की. इसके लिए एनसीपी के कार्यकर्ताओं ने जल संसाधन मंत्री तानाजी सावंत के बयान को आधार बनाया. महाराष्ट्र सरकार में शामिल नए जल संसाधन मंत्री तानाजी सावंत ने एक अजीब बयान देते हुए कहा कि तिवारे डैम टूटने के पीछे की वजह केकड़े हैं. इस बयान के बाद महाराष्ट्र में विपक्ष बीजेपी-शिवसेना को घेरने में लगा है.

रत्नागिरी के डैम टूटने की वजह से 23 लोग बह गए थे. जिसमें से 20 लोगों की लाश मिल चुकी है. यह घटना 2-3 जुलाई की रात को हुई है. इसे लेकर सरकार पर उंगलियां भी उठने लगी है. ऐसे में बीजेपी-शिवसेना में शामिल हुए नए शिवसेना के मंत्री तानाजी सावंत ने डैम टूटने के पीछे एक अजीब सा तर्क दिया है. उनका कहना है कि रत्नागिरी जिले में स्थित तिवारे डैम टूटने की वजह बांध में पाए जाने वाले केकड़े हैं.

जल संसाधन मंत्री तानाजी सावंत ने कहा कि इस डैम में बड़ी संख्या में केकड़े पाए जाते हैं, जिन्होंने डैम की दीवार में छेद कर दिया. इससे पानी का लीकेज हुआ और इसी के कारण बांध की दीवार टूट गई.


जल संसाधन मंत्री के बयान को लेकर विपक्ष की तरफ से सरकार को घेरने की तैयारी शुरू है. एनसीपी की तरफ से बीजेपी सरकार को घेरने के लिए एक अजीब आंदोलन किया गया. जिसमें केकड़े पर 302 का मामला दर्ज करने की मांग की तो वहीं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथवीराज चव्हाण ने कहा कि यह दुखद है कि सरकार भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए केकड़े की वजह से डैम टूटा बता रही है. समाजवादी पार्टी के नेता अबु हासिम आजमी ने भी इसे लेकर सरकार को घेरते हुए जांच की मांग की है.

तिवारे डैम टूटने की क्या वजह है? इसे लेकर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एसआईटी नियुक्त की है, जो इस पूरे मामले की जांच कर रही है. ऐसे में विपक्ष का आरोप है कि शिवसेना के एक विधायक है, जिसकी कम्पनी के द्वारा तिवारे डैम का काम किया गया है. जिसमें भ्रष्टाचार हुआ है. ऐसे में मंत्री जी अपने विधायक को बचाने के लिए केकड़ों पर पूरी जिम्मेदारी डाल रहे है.

(रिपोर्ट- वसीम अंसारी)

ये भी पढ़ें--
Loading...

रत्नागिरी हादसे पर मंत्री का बेतुका बयान- केकड़ाें ने दीवार में छेद किया इसलिए ढहा बांध
First published: July 5, 2019, 6:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...