लाइव टीवी

महाराष्ट्र में ’ऑपरेशन लोटस’ की कोई योजना नहीं: प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल
Mumbai News in Hindi

News18Hindi
Updated: January 6, 2020, 9:29 AM IST
महाराष्ट्र में ’ऑपरेशन लोटस’ की कोई योजना नहीं: प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल
चंद्रकांत पाटिल ने कहा है कि महाराष्ट्र में सरकार गिराने की उनकी कोई योजना नहीं है. (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र में सरकार गिराने की अटकलों को खारिज करते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) ने स्पष्ट किया है कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में ‘ऑपरेशन लोटस’ की कोई योजना नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 6, 2020, 9:29 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के भाजपा प्रमुख चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) ने कहा है कि उनकी पार्टी उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) नीत महाराष्ट्र विकास आघाडी सरकार को गिराने की कोशिश नहीं कर रही है. महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के ज्यादा समय तक नहीं चल पाने का दावा रविवार को भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस और नितिन गडकरी ने भी किया था.

चंद्रकांत पाटिल ने पुणे में संवाददाताओं से कहा, ‘महाराष्ट्र विकास आघाडी सरकार को गिराने की कोई योजना नहीं है. हम यहां ‘ऑपरेशन लोटस’ की कोई योजना नहीं बना रहे हैं. हम मजबूत विपक्ष के रूप में काम करना जारी रखेंगे.’

नितिन गडकरी ने कहा था, इस सरकार को कपटी लोगों ने बनाया है
इससे पहले दिन में देवेंद्र फडणवीस ने नागपुर में कहा था, ‘इस सरकार को कपटी लोगों ने बनाया है. यह छह महीने भी नहीं चलेगी.’ वहीं, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने नागपुर में कहा था कि शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा के बीच गठबंधन अस्वाभाविक है तथा महाराष्ट्र विकास आघाडी की सरकार खुद ब खुद ही गिर जाएगी.

दोनों दल एक दूसरे पर चुभने वाले व्यंग्य-बाण चला रहे हैं
2019 में महाराष्ट्र विधानसभा का चुनाव भाजपा और शिवसेना ने मिलकर लड़ा था और संयुक्त रूप से बहुमत हासिल किया था लेकिन इसके बाद शिवसेना मुख्यमंत्री पद की मांग पर अड़ गई. इससे दो दशकों से अधिक पुराना भाजपा-शिवसेना गठबंधन टूट गया. उसके बाद से ही दोनों दल एक दूसरे पर चुभने वाले शब्द-बाण और व्यंग्य-बाण चला रहे हैं. शिवसेना ने तो अपने मुखपत्र सामना में लेख लिखकर 2016 में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक पर ही सवाल उठा दिया और कहा कि इस सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद पर लगाम नहीं लगाया जा सका.

संजय राउत ने कहा था, वे अब तक दुख में हैं और हमें उन्हें और दुख देना चाहिएशिवसेना के राज्यसभा संजय राउत ने कुछ दिन पहले तो यहां तक कह दिया था कि, ‘भाजपा महाराष्ट्र में हार को पचा नहीं पा रही है. वे अब तक दुख में हैं और हमें उन्हें और दुख देना चाहिए. महाराष्ट्र ने देश को सबक दिया है कि डरो मत.’ उनका इशारा भाजपा से संबंध तोड़कर राज्य में कांग्रेस और राकांपा के साथ मिलकर सरकार बनाने की तरफ था. राउत ने कहा था कि महाराष्ट्र ने देश को रास्ता दिखाया है. देश हमारा धर्म है. हम सबको एकजुट होना चाहिए और इसी से भाजपा डरी हुई है.

ये भी पढ़ें - 

JNU हिंसा के बाद Traffic Alert जारी, इन रास्तों से बचने की दी सलाह

उद्धव सरकार में महत्वपूर्ण विभाग नहीं मिलने पर महाराष्ट्र कांग्रेस में नाराजगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 6, 2020, 9:29 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर