महाराष्ट्र में लॉकडाउन के कारण रिश्तेदार नहीं कर पाए मदद, हो गई बुजुर्ग दंपती की मौत
Mumbai News in Hindi

महाराष्ट्र में लॉकडाउन के कारण रिश्तेदार नहीं कर पाए मदद, हो गई बुजुर्ग दंपती की मौत
पुलिस ने लोगों से नियमों का पालन करने कहा है. (Demo Pic)

एक अधिकारी ने दंपति की पहचान अब्दुल गनी शिलेदार और हसीना के रुप में की है. उनका बेटा मानसिक रुप से कमजोर है.

  • Share this:
सोलापुर. महाराष्ट्र (Maharashtra) के सोलापुर जिले (Solapur) में शास्त्री नगर इलाके में शुक्रवार को 70 वर्षीय वृद्ध और उनकी 65 वर्षीय पत्नी का उनके घर से शव बरामद किया गया. घर से बदबू आने के बाद पुलिस को सूचना मिली थी. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

एक अधिकारी ने दंपती की पहचान अब्दुल गनी शिलेदार और हसीना के रुप में की है. उनका बेटा मानसिक रुप से कमजोर है. वह लोगों को अपने माता-पिता के शव के बारे में बता रहा था लेकिन लोगों ने उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया.

पास में रहने वाले रिश्तेदार अशफाक शिलेदार ने कहा, 'वे बीमार थे. मैं उनके लिए खाना ले जाता था, लेकिन मेरी चाची ने खाना लगभग बंद कर दिया था. दुर्भाग्य से मैं लॉकडाउन के कारण उन्हें अस्पताल नहीं ले जा सका.'



उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि वह बढ़ती गर्मी के कारण हुई कमजोरी से मर गई क्योंकि वे टिन की छत वाले घर में रहते थे जबकि मिली जानकारी के मुताबिक चाचा की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई होगी.'
भुखमरी के कारण मौतें होने की आशंका को लेकर सोलापुर कलेक्टर मिलिंद शंभरकर ने कहा कि एक डिप्टी कलेक्टर स्तर के अधिकारी को इस घटना की जांच करने के लिए कहा गया है और उनकी रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है. सोलापुर के पुलिस आयुक्त अंकुश शिंदे ने भी कहा कि इस घटना की जांच चल रही है.

यह भी पढ़ें: 12 मई से स्‍पेशल ट्रेनों के कुछ रूट पर इनके लिए रिजर्वेशन काउंटर खोलेगा रेलवे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज