लाइव टीवी

राफेल से पाक को चिंतित होना चाहिए, कांग्रेस क्यों दुखी है- शाहनवाज हुसैन

भाषा
Updated: October 9, 2019, 11:07 PM IST
राफेल से पाक को चिंतित होना चाहिए, कांग्रेस क्यों दुखी है- शाहनवाज हुसैन
शाहनवाज हुसैन ने दिया कांग्रेस को जवाब

'कांग्रेस एक दशक तक देश के लिए राफेल (Rafale) लड़ाकू विमान नहीं ला सकी. उन्होंने विपक्ष में रहते हुए ये विमान लेने के रास्ते में बाधाएं डालीं'.

  • Share this:
औरंगाबाद. भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन (Shahnawaz Hussain) ने कहा कि भारत के अत्याधुनिक राफेल (Rafale) लड़ाकू विमान लेने से पाकिस्तान को फिक्रमंद होना चाहिए न कि कांग्रेस को. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को फ्रांस में पहले राफेल विमान को प्रतीकात्मक रूप से प्राप्त किया.

यहां मीडिया से बातचीत में हुसैन ने आरोप लगाया, 'कांग्रेस एक दशक तक देश के लिए राफेल लड़ाकू विमान नहीं ला सकी. उन्होंने विपक्ष में रहते हुए ये विमान लेने के रास्ते में बाधाएं डालीं'. उन्होंने सवाल किया, 'अगर भारत को राफेल जैसे उन्नत विमान मिल रहे हैं तो पाकिस्तान को चिंतित होना चाहिए. कांग्रेस इतनी चिंतित क्यों है?’

कांग्रेस ने की थी राजनाथ सिंह की आलोचना
गौरतलब है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने राफेल सौदे में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था और लोकसभा चुनाव के दौरान जोर-शोर से यह मुद्दा उठाया था. विमान की ‘शस्त्र पूजा’ करने के लिए कांग्रेस नेताओं द्वारा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की आलोचना करने पर हुसैन ने कहा कि दशहरे पर शस्त्र पूजा करना हमारी परंपरा है.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में अनुच्छेद 370 को बनाया मुद्दा
भाजपा नेता ने कहा, 'जब एक राफेल विमान सौंपा गया तब भारतीय वायु सेना दिवस था और विजयदशमी का त्यौहार था. विजयदशमी पर शस्त्र पूजा करना परंपरा है और इसलिए हमारे रक्षा मंत्री ने ऐसा किया'. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाने के मुद्दे को लाने के विपक्ष के आरोपों को भाजपा प्रवक्ता ने खारिज किया.

उन्होंने कहा, 'हमने इसे (संवैधानिक प्रावधानों को) रद्द किया है और हम इस बारे में बात करेंगे. कांग्रेस इसे राजनीतिक मुद्दा बना रही है. महाराष्ट्र ने राष्ट्रीय सुरक्षा में योगदान दिया है. इसलिए हम लोगों को यहां इसे रद्द करने के बारे में बता रहे हैं.'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 11:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...