लाइव टीवी

इस चुनाव परिणाम के बाद पवार का राजनीतिक करियर समाप्त हो जाएगा : पाटिल

भाषा
Updated: October 9, 2019, 3:21 PM IST
इस चुनाव परिणाम के बाद पवार का राजनीतिक करियर समाप्त हो जाएगा : पाटिल
महाराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष चंद्रकात पाटिल. (फाइल फोटो)

कोल्हापुर (Kolhapur) जिले में राधानगरी तहसील से शिवसेना (Shiv Sena) के उम्मीदवार प्रकाश अबिटकर की चुनावी रैली को संबोधित करते हुए चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) ने पवार पर निशाना साधा.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) भाजपा ( BJP) अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने बुधवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य विधानसभा चुनावों (Assembly elections -2019) के नतीजों के बाद उनका सामाजिक और राजनीतिक करियर (Political career) समाप्त हो जाएगा. महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव (Assembly elections) होने हैं और 24 अक्टूबर को मतगणना होगी.

कोल्हापुर (Kolhapur) जिले में राधानगरी तहसील से शिवसेना (Shiv Sena) के उम्मीदवार प्रकाश अबिटकर की चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पाटिल ने पवार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, 'विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद हम शरद पवार को सामाजिक और राजनीतिक करियर से स्थाई तौर पर सेवानिवृत्त कर देंगे.' बता दें कि कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार शिंदे ने मंगलवार को राकांपा के साथ विलय के सवाल पर कहा था कि उनकी पार्टी और राकांपा 'भविष्य में एक साथ आएगी.'

सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के साथ मतभेद के बाद पवार ने 1999 में कांग्रेस (Congress) छोड़ राकांपा (NCP) का गठन किया था. कांग्रेस और राकांपा पर निशाना साधते हुए पाटिल ने कहा, 'कांग्रेस-राकांपा ने कोथरुड निर्वाचन क्षेत्र से मेरे खिलाफ एक मजबूत उम्मीदवार उतारने की योजना बनाई थी लेकिन सच यह है कि वे अपनी पार्टी में एक भी उम्मीदवार नहीं ढूंढ पाये. मैं कोथरुड से आसानी से जीत जाऊंगा.' कोथरुड में पाटिल का मुकाबला महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के किशोर शिंदे से है. राकांपा ने शिंदे को अपना समर्थन दिया है.

कोल्हापुर के रहने वाले हैं पाटिल

बता दें कि प्रदेश बीजेपी प्रमुख चंद्रकांत पाटील (Chandrakant Patil) पुणे (Pune) जिले के कोथरुड (Kothrud) विधानसभा क्षेत्र से पहली बार चुनावी मैदान में हैं. उन पर यहां बाहरी होने का आरोप भी लग चुका है. यह आरोप खुद पार्टी कार्यकर्ताओं के एक वर्ग द्वारा लगाया गया था. दरअसल, पाटील मूल रूप से कोल्हापुर के रहने वाले हैं और इसे लेकर कुछ पार्टी कार्यकर्ता उन पर बाहरी होने का आरोप लगा रहे हैं.

मनसे प्रत्याशी के खिलाफ लड़ रहे हैं पाटिल
बाहरी कहने के बचाव में पाटील ने पाटिल ने कहा था कि दूसरे स्थान पर रहकर चुनाव लड़ना कोई नई बात नहीं है. हर पार्टी का अपना समीकरण और योजना होती है. कार्यकर्ताओं से उस सीट से चुनाव लड़ने को भी कहा जाता है, जहां वे नहीं रहते हैं.
Loading...

पाटील ने कहा कि वे अपने मित्र के आग्रह पर उनके यहां रह रहे हैं और उन्होंने इस बाबत किसी करारनामे पर हस्ताक्षर नहीं किया है. उन्होंने बताया कि कोथरुड में उन्होंने जनता से मिलने के लिए एक कार्यालय किराये पर लिया है. पाटील को महाराष्ट्र नवनर्माण सेना के प्रत्याशी किशोर शिंदे के विरुद्ध खड़ा किया गया है. शिंदे को कांग्रेस और राकांपा का समर्थन प्राप्त है.

ब्राह्मण बाहुल्य सीट से मिला है टिकट
बता दें कि इससे पहले सोमवार को चंद्रकांत पाटील को लेकर खबर आई थी कि उन्हें कोथरूड विधानसभा में घेरने की तैयारी चल रही है. मराठा नेता के तौर पर जाने जाने वाले चंद्रकांत पाटील को ब्राह्मण बाहुल्य सीट से बीजेपी ने उम्मीदवार बना दिया है.

कहा जा रहा है कि इसको लेकर ब्राह्मण नाराज बताए जा रहे हैं. हालांकि इन्हें मनाने के लिए बीजेपी ने पूरी ताकत झोंक दी है. बीजेपी ने मेधा कुलकर्णी के साथ-साथ पुणे के सांसद गिरीश बापट को इसकी जिम्मेदारी दी है. गिरीश बापट और मेधा कुलकर्णी दोनों ही ब्राह्मण चेहरा हैं. इस कारण बीजेपी को उम्मीद है कि सब कुछ ठीक-ठाक होगा.

 ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र BJP अध्यक्ष से ब्राह्मण नाराज, जीत सुनिश्चित करने के लिए मनाने में जुटी पार्टी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 3:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...