PMC बैंक घोटाला: सरकार ने खाताधारकों को दी बड़ी राहत, इन हालात में दोगुनी निकाल सकते हैं राशि
Mumbai News in Hindi

PMC बैंक घोटाला: सरकार ने खाताधारकों को दी बड़ी राहत, इन हालात में दोगुनी निकाल सकते हैं राशि
वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पीएमसी बैंक के खाताधारकों को बड़ी राहत दी है. (फाइल फोटो)

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा (Lok Sabha) में बताया कि PMC Bank के खाताधारक आपात परिस्थितियों में तय सीमा से दोगुनी राशि निकल सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 2, 2019, 3:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. हजारों करोड़ रुपए के घोटाले के शिकार पंजाब एंड महाराष्‍ट्र को-ऑपरेटिव बैंक (PMC Bank) के खाताधारकों को सरकार ने बड़ी राहत दी है. इसके तहत आपात परिस्थितियों में खाताधारक पहले से तय राशि से दोगुने रकम की निकासी कर सकते हैं. वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार (2 दिसंबर 2019) को लोकसभा में इसकी जानकारी दी. बता दें कि मौजूदा प्रावधानों के तहत घोटालों से त्रस्‍त PMC बैंक के खाताधारक 50,000 रुपये निकाल सकते हैं. वित्‍त मंत्री ने प्रश्‍नकाल के दौरान पूछे कए एक सवाल के जवाब में कहा कि शादी, मेडिकल जरूरतों या अन्‍य अन्‍य आपात परिस्थितियों में खाताधारक 50 हजार के बजाया एक लाख तक की निकासी कर सकेंगे. ऐसा RBI के आपातकालीन प्रावधानों के तहत किया जा सकता है.

तीन चौथाई से ज्‍यादा लोग निकाल सकेंगे पूरा पैसा
पीएमसी बैंक से निकासी को लेकर केंद्र सरकार की ओर से किए नए प्रावधान से तीन चौथाई (78%) से ज्‍यादा खाताधारक अपनी पूरी जमाराशि निकाल सकेंगे. निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में कहा, 'तकरीबन 78% खाताधारकों को पूरी जमाराशि निकालने की मंजूरी दे दी गई है. ये लोग छोटे खाताधारक हैं. इसके साथ (आपात परिस्थितियों में एक लाख रुपये की निकासी) ही छोटे खाताधारकों की चिंताओं का पूरा-पूरा ध्‍यान रखा गया है.'

बेची जाएगी PMC बैंक के प्रमोटर्स की संपत्ति
वित्‍त मंत्री ने बताया कि PMC बैंक के प्रमोटर्स की संपत्ति को जब्‍त कर उसे बेचने की प्रक्रिया चल रही है. संपत्ति बेचने से जुटाई गई राशि से उन खाताधारकों के पैसे लौटाए जाएंगे, जिनकी जमाराशि अटक गई है. हालांकि, वित्‍त मंत्री ने इस पूरी प्रक्रिया के पूरा होने की अवधि नहीं बताई.



इस तरह दिया गया घोटाले को अंजाम
PMC बैंक के प्रमोटर्स पर हजारों करोड़ रुपए का घोटाला करने का आरोप है. दरअसल, पीएमसी बैंक मैनेजमेंट ने गलत तरीके से रियल्‍टी कंपनी HDIL (हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफास्‍ट्रक्‍चर लिमिटेड) को हजारों करोड़ रुपये का लोन दे दिया. आरोप है कि RBI के दिशा-निर्देशों को जानबूझकर नजरअंदाज करते इतनी बड़ी राशि दे दी गई. मुंबई पुलिस की अपराध शाखा के अनुसार, PMC बैंक द्वारा दिए गए कुल लोन में से 70 प्रतिशत तक HDIL को दे दिए गए. इसमें खाताधारकों के पैसे भी शामिल थे. ऐसे में HDIL के डिफॉल्‍ट होने पर खाताधारकों के पैसे भी डूब गए. अब बैंक के सैकड़ों जमाकर्ता दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं.



 

ये भी पढ़ें: PMC बैंक मामला: HDIL मालिक के दो प्राइवेट जेट और एक यॉट नीलाम करने का आदेश

PMC बैंक घोटाले में 5वीं मौत: हार्ट अटैक से गई वृद्ध महिला की जान, खाते में जमा थे 2.5 करोड़
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading