होम /न्यूज /महाराष्ट्र /मुंबईः दाऊद इब्राहिम का सहयोगी रियाज भाटी को 1 अक्टूबर को पुलिस कस्टडी में भेजा

मुंबईः दाऊद इब्राहिम का सहयोगी रियाज भाटी को 1 अक्टूबर को पुलिस कस्टडी में भेजा

मुंबई पुलिस भाटी की 14 दिनों की हिरासत मांगेगी. (फाइल फोटो)

मुंबई पुलिस भाटी की 14 दिनों की हिरासत मांगेगी. (फाइल फोटो)

क्राइम ब्रांच की एंटी एक्सटोर्शन सेल ने लंबे समय से फरार चल रहे भाटी को मुंबई के अंधेरी इलाके से गिरफ्तार किया था. पुलि ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

पुलिस भाटी की 14 दिनों की रिमांंड मांगेगी.
भाटी ने छोटा शकील के रिश्तेदार सलीम फ्रूट के साथ मिलकर बिजनेसमैन से फिरौती मांगी थी.
वर्सोवा थाने में ​​सलीम फ्रूट और रियाज भाटी के खिलाफ रंगदारी का मामला दर्ज किया गया है.

मुंबई. डरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम के सहयोगी और गैंगेस्टर रियाज भाटी को मुंबई पुलिस ने कल देर रात गिरफ्तार किया था. क्राइम ब्रांच की एंटी एक्सटोर्शन सेल ने लंबे समय से फरार चल रहे भाटी को मुंबई के अंधेरी इलाके से गिरफ्तार किया था. पुलिस भाटी की 14 दिनों की हिरासत मांगेगी. भाटी ने छोटा शकील के रिश्तेदार सलीम फ्रूट के साथ मिलकर बिजनेसमैन से फिरौती मांगी थी. मुंबई के वर्सोवा थाने में सलीम कुरैशी उर्फ ​​सलीम फ्रूट और रियाज भाटी के खिलाफ रंगदारी का मामला दर्ज किया गया है.

जानकारी के मुताबिक रियाज भाटी और सलीम फ्रूट ने अंधेरी के एक बिजनेसमैन से जुए में हारे हुए 62 लाख रुपए धमका कर मांग रहा था. बिजनेसमैन के पास उस वक्त पैसे नही थे, इसलिए सलीम फ्रूट ने उसकी गाड़ी छीन ली. सलीम फ्रूट ने गाड़ी की कीमत 30 लाख रुपए लगाई और 32 लाख के लिए बिजनेसमैन को छोटा शकील के नाम से धमकाने लगा. कुछ दिनों बाद जब NIA ने सलीम फ्रूट को किसी अन्य मामले में गिरफ्तार किया, तब रियाज भाटी पीड़ित बिजनेसमैन से फ्रूट की तरफ से धमकाकर पैसे मांगने लगा. इसके बाद बिजनेसमैन ने वर्सोवा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रियाज भाटी एक कुख्यात गैंगेस्टर है. इसका सीधा संबंध दाऊद इब्राहिम गिरोह से माना जाता है. भाटी के ऊपर रंगदारी, जमीन हड़पने, धोखाधड़ी, जालसाजी और फायरिंग के कई मामले दर्ज हैं. रियाज को साल 2015 और 2020 में फर्जी पासपोर्ट के जरिए अदालती आदेशों का उल्लंघन कर देश से भागने की कोशिश करने के दौरान गिरफ्तार किया जा चुका है.

मालूम हो कि भाटी पिछले साल जुलाई में गोरेगांव में दर्ज एक मामले में परमबीर सिंह और सचिन वाजे के साथ सह आरोपी है. सूत्रों के अनुसार रियाज भाटी वाजे के कहने पर बार और रेस्टोरेंट से वसूली करता था. इस मामले में उसकी अग्रिम जमानत को कोर्ट ने पिछले साल सितंबर के महीने में रद्द कर दी थी. तब से वह फरार चल रहा था.

Tags: Dawood ibrahim, Maharashtra, Mumbai police

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें